देखे WHO ने पहली बार खानपान को लेकर जारी की गाइडलाइन


रिपोर्ट मनप्रीत सिंह


रायपुर छत्तीसगढ़ विशेष : विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) कोरोना वायरस को लेकर समय-समय पर नई गाइडलाइन या एडवाइजरी जारी करती रहता है। हाल ही में WHO ने फूड सेफ्टी को लेकर कुछ टिप्स जारी किए हैं। इन फूड सेफ्टी के साथ ही WHO ने यह भी बताया है कि ऐसा करना क्यूं जरूरी है।




1. खाना बनाने या किसी भी खाने वाली चीज को छूने से पहले हाथों को अच्छे से धो लें। टॉयलेट आदि जाने के बाद भी हाथों को साबुन से अच्छी तरह से धोएं। जहां खाना बना रहे हैं उस जगह को अच्छे से धोएं या फिर सेनेटाइज करें। WHO के मुताबिक सूक्ष्मजीव बर्तन पोंछने, किचन के अन्य कपड़ों और कटिंग बोर्ड में आसानी से आ जाते हैं जो हाथों के जरिए खानों में पहुंच सकते हैं इसलिए इन बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है।


2. कच्चा मीट, चिकन आदि को अन्य खाने वाले पदार्थों से दूर रखें। दोनों को बर्तन अलग-अलग होने चाहिए। कच्चे खाने में इस्तेमाल होने वाले कटिंग बोर्ड्स और चाकू को दूसरे खाने बनाने वाली सामग्री में इस्तेमाल न करें। कच्चे और दूसरे पके हुए खाने को बर्तन से ढक कर ही रखें। WHO ने कहा कि कच्चा खाना खासकर चिकन आदि के जूस में खतरनाक सूक्ष्मजीव हो सकते हैं जो खाना बनाते समय दूसरे पके खाने में जा सकते हैं, इसलिए इन सावधानियां का बरतना जरूरी है।


3. अगर घर में नॉनवेज पका रहे हैं तो इसे अच्छे से 70 डिग्री सेल्सियस पर धीरे-धीरे उबालकर पकाएं। मीट,पोल्ट्री और सी फूड्स का सूप बनाते समय इस बात का ध्यान रखें कि यह गुलाबी रंग का ना दिखे, यह पकने के बाद बिल्कुल साफ दिखना चाहिए। वहीं खाने से पहले भी भोजन को अच्छे से गर्म कर लें। खाना अच्छे से पकाने से इसके सारे कीटाणु मर जाते हैं। 70 डिग्री सेल्सियस तापमान पर पका खाना खाने में सुरक्षित होता है। नॉनवेज बनाते समय इन बातों को ध्यान रखना जरूरी है।


4. कमरे के तापमान पर पके हुए खाने को 2 घंटे से ज्यादा देर तक न छोड़ें। खाने को उचित तापमान पर फ्रिज में रखें। खाने को परोसने से पहले फ्रिज से निकालने पर इसे कम से कम 60 डिग्री सेल्सियस तापमान पर अच्छे से गर्म करें। कोशिश करें कि खाना फ्रिज में ज्यादा देर तक न रखा जाए। WHO के मुताबिक कम तापमान में रखे खाने में सूक्ष्मजीव बहुत तेजी से बढ़ते हैं। सूक्ष्मजीव 5 डिग्री से कम और 60 डिग्री से ज्यादा तापमान में पनपने बंद हो जाते हैं ।


5. खाना बनाने और पीने के लिए हमेशा साफ पानी का ही इस्तेमाल करें। हो सके तो पानी उबाल कर ही पीएं। सब्जियों और फलों को अच्छे से धोने के बाद ही इस्तेमाल करें। दरअसल पानी और बर्फ में भी कई बार खतरनाक सूक्ष्मजीव पाए जाते हैं जो पानी को जहरीला बना देते हैं। सब्जियों को छीलकर या काटकर बनाने से यह कीटाणुरहित हो जाती हैं।


बता दें कि WHO द्वारा कोरोना को महामारी घोषित करने के बाद दुनियाभर के कई देशों ने लॉकडाउन लगा रखा है। दुनियाभर में कोरोना से लाखों लोगों की मौत हो चुकी। भारत में भी कोरोना का कहर जारी है। भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 67 हजार के पार चली गई है और 2 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।



Popular posts
अगले 24 घंटों के दौरान छत्तीसगढ़ सहित इन इलाको मे होगी तेज बारिश, ओले गिरने की भी संभावना
Image
RAIPUR SPECIAL : दिनाक 08 मार्च को " मयूर वाटिका भू- कल्याण समिति " का सेजबहार में प्लाट स्थल पर बैठक का आयोजन किया गया
Image
स्किन और हेयर प्रॉब्लम्स से बचने के लिए डाइट में लें विटामिन ई का करे प्रयोग
Image
हास्य केंद्र योग के दसवें स्थापना वर्ष में शामिल हुए विधायक कुलदीप जुनेजा
Image
अयोध्या में अब क्रूज बोट से देख सकेंगे सरयू आरती - ऐसा होगा रामायण क्रूज टूर
Image
लॉकडाउन के बाद घर पर पोछा लगाते दिखी एक्ट्रेस हिना खान
Image
लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू जी ने कहा- 6 माह में एक्सप्रेस-वे तैयार होगा….
Image
कोरोना के खिलाफ पूरी दुनिया जूझ रही है - इसमे एलोपैथ से अधिक कारगर आयुर्वेद की दवाएं, रिसर्च में हुआ खुलासा
Image
शॉपिंग मॉल बनाने को लेकर बिल्डर की गोली मारकर हत्या
Image
झोपड़ी में राशन बांटने गए, लेकिन लोग मुर्गा खाते दिखे
Image