बाबा रामदेव की ट्वीट, 'नफरत करने वालों के लिए घोर निराशा की खबर'


रिपोर्ट मनप्रीत सिंह 


रायपुर छत्तीसगढ़ विशेष : बाबा रामदेव ने कोरोना महामारी का सफल इलाज करने का दावा करते हुए कोरोनिल नाम से एक दवा कल बाजार में उतारी थी। इस पर बाबा रामदेव को चौतरफा घिरते हुए दिख रहे थे, क्योंकि आयुष मंत्रालय ने इस दवाई से पल्ला झाड़ दिया था जिसके बाद सोशल मीडिया पर बाबा रामदेव पर सवाल खड़े हो रहे थे।बाबा रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद की 'दिव्‍य कोरोना किट' के विज्ञापन पर आयुष मंत्रालय ने रोक लगा दी थी। मंत्रालय ने रामदेव की कंपनी से दवा के बारे में पूरी जानकारी उपलब्ध कराने को कहा था। पूछा है कि उस अस्‍पताल और साइट के बारे में भी बताएं, जहां इसकी रिसर्च हुई। वहीं उत्तराखंड सरकार से इस आयुर्वेदिक दवा के लाइसेंस आदि के बारे में जानकारी मांगी है। अब आयुष मंत्रालय ने कहा है कि उसे दवा के क्लीनिकल ट्रायल संबंधी सभी दस्तावेज मिल गए हैं और वह शोध के नतीजों के सत्यापन के लिए इस दस्तावेजों का अध्ययन करेगा। इस पत्र के आते ही अब बाबा रामदेव की प्रतिक्रिया भी आ गई है। उन्होंने कहा कि आयुर्वेद का विरोध एवं नफरत करने वालों के लिए घोर निराशा की खबर।


मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड हरिद्वार की ओर से कोविड 19 के उपचार के लिए तैयार दवाओं के बारे मे उसे मीडिया से जानकारी मिली। दवा से जुड़े वैज्ञानिक दावे के अध्ययन और विवरण के बारे में मंत्रालय को कुछ जानकारी नहीं है। केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद नाइक ने एक चैनल से बातचीत में कहा कि रामदेव को अपनी दवा की घोषणा मंत्रालय से इजाजत लिए बिना नहीं करनी चाहिए थी। उन्‍होंने कहा, 'हमने उनसे जवाब मांगा है। पूरा मामला टास्‍क फोर्स के पास भेजा गया है।' नाइक के मुताबिक, पतंजलि जो जवाब देगी उसकी और पूरे मामले की समीक्षा टास्‍क फोर्स करेगी। यह देखा जाएगा कि पतंजलि ने कौन-कौन सा फॉर्म्‍युला अपनाया है। सब ठीक रहा तो उनको दवा बेचने की अनुमति दे दी जाएगी। मंत्री के अनुसार, पतंजलि के मंत्रालय से परमिशन ने लेने पर ही आपत्ति है। उन्‍होंने कहा कि कोई दवा लेकर मार्केट में आता है तो उससे किसी को ऐतराज नहीं है। इससे पहले मंगलवार को दवा लॉन्‍च करते समय रामदेव का दावा था कि यह इतनी असरदार है कि कोरोना के माइल्‍ड से मॉडरेट केसेज 3 से 7 दिन में रिकवर हो जाते हैं। उन्‍होंने ट्रायल के नतीजो का हवाला देते हुए यह दावा किया था। पतंजलि की 'दिव्‍य कोरोना किट' में तीन चीजें हैं- कोरोनिल, श्‍वसारि वटी और अणु तेल। कंपनी के अनुसार, कोरोनिल टैबलेट में गिलोय, तुलसी और अश्‍वगंधा मूल घटक


Popular posts
फेफड़ों को स्वस्थ और साफ रखने के लिए इन चीज़ों का रोजाना करें सेवन
Image
ईद-उल-अजहा पर्व पर आज विधायक कुलदीप जुनेजा और छत्तीसगढ़ विशेष के सम्पादक मनप्रीत सिंह ने सभी प्रदेशवासियों को बधाई देते कहा कि ईद-उल-अजहा पर्व हमे भाईचारा एवं एकजुटता का संदेश देता है
Image
अखिर कार 4 हजार करोड़ की लागत से डोंगरगढ़-कवर्धा-कटघोरा रेल लाइन को रेल मंत्रालय ने मंजूरी दी,जल्द दौड़ेगी ट्रेन
Image
छत्तीसगढ़ विशेष के सम्पादक मनप्रीत सिंह ने राज्य के संसदीय सचिव एवं महासमुंद विधायक विनोद चंद्राकर जी को जन्म दिन की शुभकामनाये देते हुए जल्दी स्वस्थ होने की कामना की
Image
विवादों के बीच BMC ने ध्वस्त किया कंगना रनौत का ऑफिस - बॉम्बे हाईकोर्ट ने कंगना रनौत के दफ्तर में तोड़फोड़ पर लगाई रोक
Image
हाथों पर ज्यादा सेनिटाइज़र का इस्तेमाल करते हैं तो इस तरह रखें ख्याल
Image
मुंगेली जिला कलेक्टर ने आदेश जारी कर 17 से 23 सितंबर के बीच कम्प्लीट लॉकडाउन करने का फैसला लिया
Image
लोन मोरेटोरियम को लेकर, बैंक ‘लोन रिस्ट्रक्चरिंग’ के लिए स्वतंत्र है - सुप्रीम कोर्ट ने कहा
Image
हास्य केंद्र योग के दसवें स्थापना वर्ष में शामिल हुए विधायक कुलदीप जुनेजा
Image
न्यूज पब्लिशर्स को कंटेंट के लिए पैसे देगा गूगल - अगले तीन साल में 01 अरब डॉलर देने का प्लान
Image