बोगस बिल लगाकर पुलिस विभाग 26 लाख का चूना लगाने की कोशिश करने वाला दादा ट्रेवलर्स के संचालक के खिलाफ दर्ज हुआ धोखाधड़ी का मामला


रिपोर्ट मनप्रीत सिंह 


रायपुर छत्तीसगढ़ विशेष : राजधानी रायपुर से बोगस बिल लगाकर पुलिस विभाग को चूना लगाने की कोशिश करने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि पुलिस विभाग ने चित्रकूट उपचुनाव के लिए 7 बसें अधिग्रहण की थी। इसके बाद बस संचालक ने 7 बसों का बोगस बिल लगाकर पैसे निकालने की कोशिश की है। मामले की जानकारी होने के बाद कोतवाली थाना पुलिस ने आरोपी बस संचालक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और जल्द ही गिरफ्तारी हो सकती है। मिली जानकारी के अनुसार साल 2019 में चित्रकूट उपचुनाव के लिए पुलिस विभाग ने दादा ट्रेवल्स से 7 बसें अधिग्रहण की थी। इन बसों का भुगतान किए जाने के बाद बस संचालक 7 अन्य बसों का बोगस बिल लगाकर 26 लाख रुपए रुपए निकालने की कोशिश कर रहा था, लेकिन पुलिस मुख्यालय में बिल की जांच किए जाने पर मामले का खुलासा हुआ। मामले का खुलासा होने के बाद पुलिस ने दादा ट्रेवलर्स के संचालक राजेश एंड संस के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है।


Popular posts
स्किन और हेयर प्रॉब्लम्स से बचने के लिए डाइट में लें विटामिन ई का करे प्रयोग
Image
रायपुर , पूर्व विधायक श्री बैजनाथ चन्द्राकर ने करोना संक्रमण को देखते हुए छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी बैंक (अपेक्स बैंक) के प्राधिकारी के साथ मुख्यमंत्री सहयता कोष मे 10.00 लाख की राशि दी
Image
हास्य केंद्र योग के दसवें स्थापना वर्ष में शामिल हुए विधायक कुलदीप जुनेजा
Image
रायपुर में मिले 5 कोरोना मरीज
Image
ईद-उल-अजहा पर्व पर आज विधायक कुलदीप जुनेजा और छत्तीसगढ़ विशेष के सम्पादक मनप्रीत सिंह ने सभी प्रदेशवासियों को बधाई देते कहा कि ईद-उल-अजहा पर्व हमे भाईचारा एवं एकजुटता का संदेश देता है
Image
सर्दियों में सॉफ्ट और खूबसूरत स्किन के लिए फॉलो करें ये जरूरी टिप्स, कोमल बनेगी त्वचा, ग्लो रहेगा बरकरार
Image
बड़े SEX रैकेट का भंडाफोड़, 7 युवती सहित 19 गिरफ्तार, तीन होटल्स में छापा मारकर देह व्यापार के काले कारोबार का हुआ खुलासा
Image
महिला कांस्टेबल ने साथ क्वारेंटीन होने BF को बनाया नकली पति, तभी आ पहुंची असली पत्नी फिर जो हुआ...
Image
शरीर को डिटॉक्स करने का एक बेहतरीन तरीका, तलवों पर एक खास तरह की मिट्टी लगाना,
Image
राजधानी रायपुर के जिला अस्पताल में रात को 03 बच्चों ने दम तोड़ा, वहीं चश्मदीद (बेमेतरा से आए बच्चों के परिजन) ने 07 मौतों का दावा किया - बिना ऑक्सीजन रेफर करने का आरोप, पुलिस के दखल से ढाई घंटे बाद शांत हुए लोग
Image