सर्वदलीय बैठक: सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री से पूछे तीखे सवाल


Report manpreet singh 


Raipur chhattisgarh VISHESH :प्रधानमंत्री द्वारा आहूत सर्वदलीय बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि “वास्तव में, इतना समय गुजर जाने के बाद भी इस संकट के अनेक महत्वपूर्ण पहलुओं के बारे में हमें अंधेरे में रखा गया है। उन्होंने कहा कि ‘हम सरकार से यह स्पष्ट आश्वासन चाहेंगे कि पूरे सीमा क्षेत्र में पहले की यथास्थिति हर हालत में सुनिश्चित होगी। चीन पहले की तरह वास्तविक नियंत्र रेखा (L AC) पर पुरानी स्थिति में अपनी सेना की वापसी करेगा।”


चीन की घुसपैठ और सीमा पर दोनों देशों के सैनिकों के बीच हुई झड़प के मुददे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सरकार से कई तीखे सवाल पूछे हैं। सोनिया गांधी ने कहा कि “वास्तव में, इतना समय गुजर जाने के बाद भी इस संकट के अनेक महत्वपूर्ण पहलुओं के बारे में हमें अंधेरे में रखा गया है।” उन्होंने कहा, ‘हम सरकार से यह स्पष्ट आश्वासन चाहेंगे कि पूरे सीमा क्षेत्र में पहले की यथास्थिति हर हालत में सुनिश्चित होगी। चीन पहले की तरह वास्तविक नियंत्र रेखा (L AC) पर पुरानी स्थिति में अपनी सेना की वापसी करेगा।”



कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, “मेरे विचार से यह बैठक सरकार को लद्दाख और अन्य जगहों पर चीनी घुसपैठ की 5 मई, 2020 को खबरें मिलने के फौरन बाद बुलानी चाहिए थी। हमेशा की तरह पूरा देश एक चट्टान की तरह साथ खड़ा होता और देश की सीमाओं की अखंडता की रक्षा के लिए सरकार द्वारा उठाए गए कदम में अपना पूरा सहयोग देता। खेद इस बात का है कि ऐसा नहीं हुआ। वास्तव में, इतना समय गुजर जाने के बाद भी इस संकट के अनेक महत्वपूर्ण पहलुओं के बारे में हमें अंधेरे में रखा गया है।”


भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस सहित सारे विपक्षी दल हमारे सैनिकों के साथ पूरी तरह एकजुट हैं। हमारी सेनाएं सभी चुनौतियों से निपटने में सक्षम हैं, इसके लिए हम कोई भी कुर्बानी देने को तैयार हैं। देश के लोग सरकार से उम्मीद करते हैं कि वो पूरे देश और विपक्ष को विश्वास में लें और लगातार पूरे घटनाक्रम की जानकारी दें। तभी हम दुनिया के सामने अपनी एकजुटता ओर सहयोग सुनिश्चित कर सकेंगे।


सोनिया गांधी ने बैठक में कहा कि देश की ओर से सरकार से हमारे कुछ सवाल हैं….


1- चीनी सेनाओं ने लद्दाख में हमारे क्षेत्र में किस तारीख़ को घुसपैठ की?2- सरकार को हमारे क्षेत्र में चीनी घुसपैठ के बारे कब जानकारी हुई?3- खबरों की मानें तो घुसपैठ 5 मई को हुई, क्या यह सही है, या फिर घुसपैठ उसके बाद हुई?4- क्या सरकार को, नियमित रूप से, हमारे देश की सीमाओं की satellite images नहीं मिलती हैं?5- क्या हमारी खुफिया एजेंसियों ने लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर घुसपैठ की जानकारी नहीं दी?6- क्या सेना की इंटेलिजेंस ने सरकार को वास्तविक नियंत्र रेखा (L AC) पर चीनी कब्जे और भारतीय क्षेत्र में चीनी सेना की मौजूदगी के बारे सचेत नहीं किया?7- क्या सरकार यह स्वीकार करेगी कि यह इंटेलिजेंस की विफलता है?


कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस पार्टी का यह मानना है कि 5 मई से लेकर 6 जून के बीच का बहुमूल्य समय हमने गंवा दिया, जब दोनों देशों के कोर कमांडर्स की बैठक हुई। 6 जून की इस बैठक के बाद भी, चीन के नेतृत्व से राजनैतिक और कूटनीतिक स्तरों पर सीधे बात क्यों नहीं की गई? हम सभी मौकों का लाभ उठाने में नाकाम रहे। आज परिणाम यह है कि हमारे 20 बहादुर जवानों की दर्दनाक शहादत हुई और अनेकों घायल हुए।


उन्होंने कहा, “मैं प्रधानमंत्री जी से आग्रह करती हूँ कि वो हमसे सभी जानकारी साझा करें और इस साल अप्रैल से लेकर आज तक के सारे हालात की जानकारी दें। प्रश्न यह है कि अब आगे क्या? आगे का रास्ता क्या होगा? कांग्रेस पार्टी की ओर से हम यह भी जानना चाहेंगे कि चीनी सेना की वापसी के बारे में क्या कार्यवाही चल रही है?”


हम सरकार से यह स्पष्ट आश्वासन चाहेंगे कि पूरे सीमा क्षेत्र में पहले की यथास्थिति हर हालत में सुनिश्चित होगी। चीन पहले की तरह वास्तविक नियंत्र रेखा (L AC) पर पुरानी स्थिति में अपनी सेना की वापसी करेगा।


श्रीमती सोनिया गांधी ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री जी से उम्मीद करती हूँ कि वे देश के सामने किसी भी खतरे से निपटने के लिए सेना की तैयारियों की जानकारी भी समूचे विपक्ष को देंगे। मैं यह भी पूछना चाहूंगी कि यूपीए सरकार द्वारा अप्रैल, 2013 में मंजूर की गई, माउंटेन स्ट्राइक कोर के गठन के बारे में मौजूदा स्थिति क्या है? इस कोर के तहत मंजूर की गई दो माउंटेन इन्फेंट्री डिविज़न्स के गठन में क्या प्रगति है?


Popular posts
फेफड़ों को स्वस्थ और साफ रखने के लिए इन चीज़ों का रोजाना करें सेवन
Image
ईद-उल-अजहा पर्व पर आज विधायक कुलदीप जुनेजा और छत्तीसगढ़ विशेष के सम्पादक मनप्रीत सिंह ने सभी प्रदेशवासियों को बधाई देते कहा कि ईद-उल-अजहा पर्व हमे भाईचारा एवं एकजुटता का संदेश देता है
Image
अखिर कार 4 हजार करोड़ की लागत से डोंगरगढ़-कवर्धा-कटघोरा रेल लाइन को रेल मंत्रालय ने मंजूरी दी,जल्द दौड़ेगी ट्रेन
Image
छत्तीसगढ़ विशेष के सम्पादक मनप्रीत सिंह ने राज्य के संसदीय सचिव एवं महासमुंद विधायक विनोद चंद्राकर जी को जन्म दिन की शुभकामनाये देते हुए जल्दी स्वस्थ होने की कामना की
Image
विवादों के बीच BMC ने ध्वस्त किया कंगना रनौत का ऑफिस - बॉम्बे हाईकोर्ट ने कंगना रनौत के दफ्तर में तोड़फोड़ पर लगाई रोक
Image
हाथों पर ज्यादा सेनिटाइज़र का इस्तेमाल करते हैं तो इस तरह रखें ख्याल
Image
मुंगेली जिला कलेक्टर ने आदेश जारी कर 17 से 23 सितंबर के बीच कम्प्लीट लॉकडाउन करने का फैसला लिया
Image
लोन मोरेटोरियम को लेकर, बैंक ‘लोन रिस्ट्रक्चरिंग’ के लिए स्वतंत्र है - सुप्रीम कोर्ट ने कहा
Image
हास्य केंद्र योग के दसवें स्थापना वर्ष में शामिल हुए विधायक कुलदीप जुनेजा
Image
न्यूज पब्लिशर्स को कंटेंट के लिए पैसे देगा गूगल - अगले तीन साल में 01 अरब डॉलर देने का प्लान
Image