छत्तीसगढ़ पुलिस को पुलिस बल आधुनिकीरण योजना के तहत केन्द्र सरकार से पहले के तुलना में कम फंड मिलने पर गृहमंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखा …


Report manpreet singh 


Raipur chhattisgarh VISHESH : रायपुर , कुछ वर्षो से पुलिस बल आधुनिकीरण योजना के माध्यम से प्राप्त होने वाली राशि में निरंतर कमी हो रही है। वर्ष 2013-14 में अनुमोदित प्लान का कुल आकार करीब 56 करोड़ था, जो वर्ष 2019-20 में घटकर 20 करोड़ से भी कम रह गया है। छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री श्री ताम्रध्वज साहू केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखा है । श्री साहू ने केंद्रीय गृहमंत्री को लिखा –


पुलिस बल आधुनिकीरण योजना राज्य पुलिस बलों की क्षमता को बढ़ाने के लिए एक केन्द्र-प्रायोजित योजना है। इसका मुख्य उद्देश्य पुलिस-प्रशासन एवं प्रचालन हेतू आवश्यक कमियों को चिन्हांकित कर उसकी पूर्ति करना है। गत कई वर्षो से छ.ग.राज्य वामपंथ उग्रवाद समस्या से ग्रसित है। राज्य के 14 जिले नक्सल समस्या से प्रभावित एसआरई जिले है, जिनमें से 8 जिले अत्यंत प्रभावित है। राज्य में आधारभूत संरचना एवं आवष्यक संसाधनों जैसे प्रशासकीय भवन, आवासगृहों का निर्माण,शस्त्रादि, वाहन, दूरसंचार, उपकरण, प्रशिक्षण संसाधनों की आवश्यकता है।



विगत कुछ वर्षो से योजनांतर्गत प्राप्त होने वाली राशि में निरंतर कमी हो रही है। वर्ष 2013-14 में अनुमोदित प्लान का कुल आकार करीब 56 करोड़ था, जो वर्ष 2019-20 में घटकर 20 करोड़ से भी कम रह गया है। नक्सलियों के विरूद्व प्रभावी कार्यवाही एवं राज्य पुलिस का संसाधन आधार विस्तृत करने एवं अत्याधुनिक बनाये जाने हेतु योजना अंतर्गत राशि आबंटन में वृद्वि किये जाने हेतु छत्तीसगढ़ के गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू, जी द्वारा माननीय श्री अमित शाह जी, केन्द्रीय गृहमंत्री, भारत सरकार, नई दिल्ली को दिनांक 22.07.20 को पत्र लिखा 


Popular posts
हाथी के गोबर से बनी इस चीज का सेवन आप रोज करते हो.. जाने कैसे
Image
वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, व्यापक स्तर पर ‘लॉकडाउन’ लगाने का विचार नहीं - महामारी की रोकथाम के लिये केवल स्थानीय स्तर पर नियंत्रण के कदम उठाये जाएंगे
Image
लॉकडाउन के बाद घर पर पोछा लगाते दिखी एक्ट्रेस हिना खान
Image
मशहूर डिजाइनर सुनील सेठी खादी और ग्रामोद्योग आयोग के सलाहकार नियुक्त
Image
सख्त निर्देशों के साथ प्रदेश में शुरू हुआ जरूरी कामकाज - मुंह ढकना जरूरी, थूकने पर जुर्माना , पान मसाला, गुटखा प्रतिबंधित, दुकानों में दो से अधिक का जमवाड़ा वर्जित
Image