राम मंदिर भूमि पूजन को लेकर गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष महंत रामसुंदर दास का बड़ा बयान सामने आ रहा है -- 05 अगस्त का मुहूर्त शुभ नहीं, देवशयनी में नहीं होता शुभ कार्य


रिपोर्ट मनप्रीत सिंह 


रायपुर छत्तीसगढ़ विशेष : महंत रामसुंदर दास ने भी राम मंदिर निर्माण के मुहूर्त को लेकर शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के सुर में मिलाया सुर मिलाया है। उन्होंने कहा है कि देवशयनी में कोई भी शुभ कार्य सनातन परंपरा के अनुसार विपरीत माना जाता है। देवशयनी में छोटा से छोटा शुभ काम भी नहीं होता है। इतने बड़े राम मंदिर के लिए कहां से शुभ मुहूर्त निकाले समझ से परे है। बिना शुभ मुहूर्त के मंदिर का निर्माण ठीक नहीं।अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन के लिए 5 अगस्त का दिन तय किया गया है। देश भर के कई धर्म गुरुओं ने इस दिन को शुभ बताया है। लेकिन मुहूर्त को लेकर साधू संतों की राय एक नहीं है।


जहां एक ओर धर्म गुरुओं ने 05 अगस्त को शुभ मुहूर्त बताया है तो ज्योतिषपीठाधीश्वर और द्वारका शारदापीठाधीश्वर जगद्गुरू शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने इस दिन को भूमि पूजन के लिए शुभ नहीं बताया है। इसी कड़ी में गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष महंत रामसुंदर दास का भी बड़ा बयान सामने आया है।शंकराचार्य ने आगे कहा था कि आमतौर पर हिंदू कैलेंडर के 'उत्तम काल' खंड में अच्छा काम किया जाता है। 5 अगस्त की तिथि हिंदू कैलेंडर के दक्षिणायन भाद्रपद माह में पड़ रही है। 5 अगस्त को कृष्ण पक्ष की दूसरी तिथि है। शास्त्रों में भाद्रपद माह में घर/मंदिर के निर्माण की शुरूआत करना निषिद्ध है।गौरतलब है कि बीते दिनों शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा था कि हम राम मंदिर के ट्रस्ट में कोई पद नहीं चाहते हैं। हम केवल यह चाहते हैं कि मंदिर का निर्माण ठीक से हो और आधारशिला सही समय पर रखी जाए। लेकिन यह अशुभ घड़ी है।


Popular posts
हाथी के गोबर से बनी इस चीज का सेवन आप रोज करते हो.. जाने कैसे
Image
वन विभाग के कार्यालयों में उप वन क्षेत्रपाल/वन पाल/ वन रक्षक से लिपकीय कार्य नही लिये जाने का फरमान जारी
Image
खुदा से डरे - गरीबो को राशन या सहायता प्रदान करते समय फ़ोटो न खिंचाए न ही शेयर करे, ये सम्मान की बात नही
Image
छत्तीसगढ़ में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, पुलिस ने 6 लोगों को किया गिरफ्तार
Image
PACL के 12 लाख निवेशकों को 429 करोड़ रुपये से ज्‍यादा का पेमेंट किया जा चुका है। इनमें ज्यादातर छोटे निवेशक हैं, जिन्होंने कंपनी पर 10,000 रुपये तक का दावा किया था - बैंक खाते में भेजे पैसे l
Image
छत्तीसगढ़ में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, कचरा गोदाम खुलवाया गया तो युवकों ने पुलिस पर हमला करने की कोशिश मगर फोर्स को हावी होता देख, ठंडे पड़ गए और 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया
Image