मज़बूरी से मुनाफा कमाने प्राइवेट अस्पताल आगे --- कोरोना से ज्यादा कहर बरपा रहे कुछ निजी अस्पताल, शासन को जागने की जरूरत


Report manpreet singh 


Raipur chhattisgarh VISHESH : कोरोना से तो लोग ठीक हो रहे हैं लेकिन कुछ निजी अस्पतालों का बिल देखकर उनका दम निकल जा रहा है। 25 हज़ार रु रोज का किराया है नान आईसीयू यानी आइसोलेशन बैड का। छत्तीसगढ़ मे शायद सारे देश में सबसे महंगा  इलाज हो रहा है। मजबूरी से भी मुनाफा कमाने से नहीं चूक रहे हैं कुछ निजी अस्पताल। शर्मनाक है ये सब, लोग डर कर निजी अस्पताल जा रहे हैं और वहां से लुटकर बर्बाद होकर वापस आ रहे हैं। छत्तीसगढ़  विशेष ये उम्मीद रखता है कि अगर सरकार को गोबर खरीदने से कुछ समय मिल जाए तो वो बीमारी की मजबूरी का फायदा उठाने वालों  अस्पतालों पर लगाम कस सकता है l अस्पतालों मे लापरवाही, शव को घंटों आईसीयू में रखना, अधिक बिल, गलत बर्ताव जैसी घटनाये सामान्यता हर जगह देखने को मिल जाती है  l


Popular posts
हाथी के गोबर से बनी इस चीज का सेवन आप रोज करते हो.. जाने कैसे
Image
वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, व्यापक स्तर पर ‘लॉकडाउन’ लगाने का विचार नहीं - महामारी की रोकथाम के लिये केवल स्थानीय स्तर पर नियंत्रण के कदम उठाये जाएंगे
Image
लॉकडाउन के बाद घर पर पोछा लगाते दिखी एक्ट्रेस हिना खान
Image
मशहूर डिजाइनर सुनील सेठी खादी और ग्रामोद्योग आयोग के सलाहकार नियुक्त
Image
सख्त निर्देशों के साथ प्रदेश में शुरू हुआ जरूरी कामकाज - मुंह ढकना जरूरी, थूकने पर जुर्माना , पान मसाला, गुटखा प्रतिबंधित, दुकानों में दो से अधिक का जमवाड़ा वर्जित
Image