रुस ने आम जनता के लिए बाजार में उतारी कोरोना वैक्सीन, भारत के लिए अच्छी खबर


Report manpreet singh 

Raipur chhattisgarh VISHESH : नियाभर में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। कई देशों के वैज्ञानिक कोरोना वायरस का वैक्सीन बनाने के लिए दिन-रात काम कर रहे हैं। इस बीच, रुस से अच्छी खबर सामने आ रही है। रूस की कोरोना वायरस वैक्सीन Sputnik V आम नागरिकों के लिए जारी कर दी गई है।

रूस ने पिछले महीने इस टीके को मंजूरी दी थी जिसके बाद दुनियाभर, खासकर पश्चिमr देशों में इसे लेकर सवाल किया गया था।

रूस के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि जल्द ही क्षेत्रीय आधार पर वैक्सीन की डिलिवरी शुरू कर दी जाएगी। स्पुतनिक-वी को रूस की गामालेया नेशनल रिसर्च सेंटर फॉर इपीडेमीलॉजी एंड माइक्रोबॉयोलॉ़जी और रूसी डायरेक्ट इनवेस्टमेंट फंड (RDIF) ने विकसित किया है।

मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया है, 'कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम के लिए Sputnik V वैक्सीन के पहले बैच ने चिकित्सा उपकरण नियामक के जरूरी क्वालिटी टेस्ट को पास कर लिया है और पहले बैच को सिविल सर्कुलेशन में जारी कर दिया गया है।

रूस के स्वास्थ्य मंत्रालय ने COVID-19 की पहली वैक्सीन को 11 अगस्त को पंजीकृत किया था। खुद राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) ने कोरोना वैक्सीन बना लेने की घोषणा की थी। इसका नाम Sputnik V रखा गया था।

मॉस्को के मेयर सर्गेई सोबयानिन ने रविवार को उम्मीद जताई कि रूसी राजधानी के अधिकांश निवासियों को कुछ महीनों के भीतर कोरोनो वायरस का टीका लगाया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश के अन्य क्षेत्रों में रूस की वैक्सीन के पहले बैच की आपूर्ति जल्द ही करने की योजना है।

रूसी वैक्सीन का क्लीनिकल ट्रायल इस महीने भारत समेत कई देशों में शुरू होने वाला है। रूसी डायरेक्ट इनवेस्टमेंट फंड के सीईओ किरिल दिमित्रीएव ने बताया कि सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, फिलीपींस, भारत और ब्राजील में क्लीनिकल ट्रायल इस महीने प्रारंभ होंगे। तीसरे चरण के ट्रायल के प्रारंभिक परिणाम अक्टूबर-नवंबर, 2020 में प्रकाशित किए जाएंगे।

Popular posts
हाथी के गोबर से बनी इस चीज का सेवन आप रोज करते हो.. जाने कैसे
Image
वन विभाग के कार्यालयों में उप वन क्षेत्रपाल/वन पाल/ वन रक्षक से लिपकीय कार्य नही लिये जाने का फरमान जारी
Image
खुदा से डरे - गरीबो को राशन या सहायता प्रदान करते समय फ़ोटो न खिंचाए न ही शेयर करे, ये सम्मान की बात नही
Image
छत्तीसगढ़ में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, पुलिस ने 6 लोगों को किया गिरफ्तार
Image
PACL के 12 लाख निवेशकों को 429 करोड़ रुपये से ज्‍यादा का पेमेंट किया जा चुका है। इनमें ज्यादातर छोटे निवेशक हैं, जिन्होंने कंपनी पर 10,000 रुपये तक का दावा किया था - बैंक खाते में भेजे पैसे l
Image
छत्तीसगढ़ में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, कचरा गोदाम खुलवाया गया तो युवकों ने पुलिस पर हमला करने की कोशिश मगर फोर्स को हावी होता देख, ठंडे पड़ गए और 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया
Image