पीएम मोदी ने ट्वीट कर जापान के नए प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा को बधार्ई दी


Report manpreet singh 

Raipur chhattisgarh VISHESH : टोक्यो, जापान के संसद ने योशिहिदे सुगा को नया प्रधानमंत्री चुन लिया है। सुगा के प्रधानमंत्री बनने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर बधाई दी है। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि जापान के प्रधानमंत्री के रूप में नियुक्ति पर योशिहिदे सुगा को हार्दिक बधाई। मैं संयुक्त रूप से हमारी विशेष रणनीतिक और वैश्विक साझेदारी को नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए तत्पर हूं।

 सुगा ने कहा है कि उनकी शीर्ष प्राथमिकताएं कोरोना वायरस से लड़ाई लडऩा और इस महामारी से प्रभावित हुई अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाना है। उनका कहना है कि वह एक सुधारवादी हैं और उन्होंने नौकरशाही की क्षेत्रीय बाधाओं को तोड़ कर नीतियां हासिल करने का काम किया है।


 इससे पहले जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे और उनके मंत्रिमंडल ने इस्तीफा दे दिया है। संसद की पुष्टि के बाद अगले प्रधानमंत्री के पद ग्रहण करने का रास्ता साफ हो गया है। जापान में अब तक सबसे लंबे कार्यकाल के लिए प्रधानमंत्री रहे शिंजो आबे ने पिछले महीने स्वास्थ्य कारणों से पद छोडऩे की घोषणा की थी इसके बाद मुख्य कैबिनेट सचिव योशिहिदे सुगा को सत्तारूढ़ लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी का नया अध्यक्ष चुना गया था। पार्टी के बहुमत के कारण आज संसदीय मतदान में उनका प्रधानमंत्री चुना जाना तय है। 

 श्री योशिहिदे ने आम लोगों और ग्रामीण समुदायों के हित में काम करने का वायदा किया है। उन्होंने कहा कि वे श्री शिंजो आबे के अधूरे कार्यों को पूरा करेंगे। कोरोना महामारी से संघर्ष और अर्थव्यवस्था को वापस पटरी पर लाना उनकी प्राथमिकता होगी। श्री योशिहिदे ने कहा कि वे नये मंत्रिमंडल में सुधार समर्थक और कठिन परिश्रमी लोगों को नियुक्त करेंगे। 

एक स्ट्रॉबरी किसान के परिवार में पैदा हुए योशिहिदे सुगा की शीर्ष तक पहुंचने की कहानी उन्हें उस राजनीतिक अभिजात्य वर्ग से अलग करती है जिसका लंबे समय से जापान की राजनीति में दबदबा रहा है। उनका राजनीतिक सफऱ उस समय शुरू हुआ जब उन्होंने टोक्यो के होसेई यूनिवर्सिटी से ग्रैजुएशन करने के तुरंत बाद संसदीय चुनाव अभियान के लिए काम किया। बाद में उन्होंने लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी के एक सांसद के सेक्रेटरी के रूप में काम किया। इसके बाद उन्होंने ख़ुद के राजनीतिक सफऱ की शुरुआत की। वर्ष 1987 में वे योकोहामा सिटी काउंसिल के लिए चुने गए और 1996 में वे पहली बार जापान की संसद के लिए चुने गए। वर्ष 2005 में तत्कालीन प्रधानमंत्री जुनिचिरो कोइज़ुमी ने उन्हें आंतरिक मामलों और संचार विभाग का वरिष्ठ उप मंत्री बनाया। इसके बाद पीएम पद संभालने वाले शिंजो आबे ने सुगा को तीन कैबिनेट पोस्ट देकर वरिष्ठ मंत्री का दर्जा दिया और वे 2007 तक ये जिम्मेदारी निभाते रहे। प्रधानमंत्री शिंजो आबे के साथ उनके अच्छे रिश्ते बने रहे. जब 2012 में आबे फिर से पीएम बने तो उन्होंने सुगा को मुख्य कैबिनेट सेक्रेटरी का प्रभावी पद सौंपा। पिछले आठ साल से शिंजो आबे के दाहिने हाथ माने जाने वाले सुगा सुर्खयि़ों में बने रहे. उन्हें हर दिन दो बार मीडिया ब्रीफि़ंग करनी पड़ती थी. ये भी माना जाता था कि जापान की जटिल नौकरशाही का प्रबंधन भी उनके ही जिम्मे था। जब इस साल 28 अगस्त को पीएम शिंजो आबे ने खऱाब स्वास्थ्य के कारण पद छोडऩे की घोषणा की तो उसी समय से ये माना जा रहा था कि आबे के उत्तराधिकारी सुगा ही होंगे।

Popular posts
हाथी के गोबर से बनी इस चीज का सेवन आप रोज करते हो.. जाने कैसे
Image
बार बंद तो घर में शुरू कर दी हुक्का पार्टी -पुलिस ने की छापेमारी -धरे गए हुक्का पीते 11 रईसजादे
Image
राजधानी रायपुर से लगी खारून नदी के किनारे कुम्हारी से अमलेश्वर तक बनेगी 8 किमी नई सड़क
Image
सर्दियों में सॉफ्ट और खूबसूरत स्किन के लिए फॉलो करें ये जरूरी टिप्स, कोमल बनेगी त्वचा, ग्लो रहेगा बरकरार
Image
महिला कांस्टेबल ने साथ क्वारेंटीन होने BF को बनाया नकली पति, तभी आ पहुंची असली पत्नी फिर जो हुआ...
Image
छत्तीसगढ़ में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, पुलिस ने 6 लोगों को किया गिरफ्तार
Image
PACL के 12 लाख निवेशकों को 429 करोड़ रुपये से ज्‍यादा का पेमेंट किया जा चुका है। इनमें ज्यादातर छोटे निवेशक हैं, जिन्होंने कंपनी पर 10,000 रुपये तक का दावा किया था - बैंक खाते में भेजे पैसे l
Image