उत्तराखंड के भाजपा विधायक महेश नेगी पर रेप का आरोप, पीड़िता ने पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिख की CBI जांच की मांग


Report manpreet singh 

RAIPUR chhattisgarh VISHESH : उत्तराखंड के भाजपा विधायक महेश नेगी के खिलाफ दुष्कर्म के मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. सत्ताधारी पार्टी के MLA के खिलाफ उसी थाने में FIR दर्ज हुई है जिसमें उनकी पत्नी ने आरोप लगाने वाली महिला के खिलाफ ब्लैकमेलिंग का केस दर्ज करवाया है.शनिवार को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट-पंचम के आदेश पर रविवार को थाना नेहरू कॉलोनी में धारा 376 व 506 के तहत मुकदमा किया गया. पुलिस ने महेश नेगी की पत्नी रीता नेगी को भी आरोपी बनाया है.

विधायक महेश नेगी की पत्नी रीता नेगी ने 9 अगस्त को पीड़ित महिला के खिलाफ ब्लैकमेलिंग करने के आरोप में देहरादून के नेहरू कॉलोनी थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी.रीता नेगी ने महिला पर 5 करोड़ रुपए की मांग करने और न देने पर उनके पति विधायक महेश नेगी को दुष्कर्म के झूठे मामले में फंसाने की धमकी देने का आरोप लगाया था. उधर महिला ने एक वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड कर विधायक पर यौन शोषण करने का आरोप लगाया. साथ ही दावा किया कि विधायक से उसकी एक बच्ची भी है, जिसे साबित करने के लिए वो DNA टेस्ट तक कराने के लिए तैयार है. वहीं विधायक महेश नेगी ने महिला पर राजनीति षड़यंत्र के तहत उनको फंसाने का आरोप लगाया था. उन्होंने अपने खर्च पर महिला की पॉलीग्राफी टेस्ट कराने की मांग की थी.

उत्तराखंड के भाजपा विधायक महेश नेगी पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली एक महिला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिख मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है। महिला का आरोप है कि भाजपा विधायक ने उसके साथ रेप किया, जिसकी वजह से वह गर्भवती हुई। महिला ने भाजपा विधायक को अपनी नवजात बच्ची का पिता बताया है।पीड़ित महिला के वकील एसपी सिंह ने कहा ‘उन्होंने सीबीआई जांच की मांग के लिए गुरुवार को प्रधानमंत्री पत्र को लिखा है क्योंकि प्रशासन और पुलिस आरोपी विधायक को बचाने की कोशिश कर रही है और वे निष्पक्ष जांच नहीं कर रहे हैं।’ उन्होंने आगे कहा कि विधायक को बचाने के लिए पुलिस एक स्पष्ट प्रयास में तथ्यों को घुमा रही है और यहां तक कि मेरे मुवक्किल को आरोपी विधायक के साथ समझौता करने के लिए कहा है। इसलिए स्पष्ट और निष्पक्ष जांच की उम्मीद में पीएम को लिखा है।

हालांकि, पुलिस ने इन आरोपों का खंडन किया है। देहरादून के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अरुण मोहन जोशी ने कहा कि शिकायतकर्ता ने मांग की थी कि जांच अधिकारी को बदल दिया जाए क्योंकि उन्हें उस पर भरोसा नहीं था। उनका मांग को मान लिया गया और मामला एक विशेष जांच दल को सौंपा गया।इससे पहले महिला ने राज्य के गृह सचिव को पत्र लिखकर मामले की सीबीआई जांच की मांग की थी, लेकिन अभी तक जवाब नहीं मिला है। पीड़ित महिला के वकील ने कहा कि हमें अभी तक राज्य सरकार से जवाब नहीं मिला है। अगर मांग पूरी नहीं होती है, तो हम इसके लिए उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाएंगे।

Popular posts
मॉडल की शिकायत पर उद्योगपति के फार्महाउस में पर छापा -- वेब सीरीज बनाने के नाम पर डर्टी पिक्चर का खेल
Image
मध्यप्रदेश में आयकर विभाग के छापों पर सियासत गर्म --- फेथ बिल्डर्स IT रेड , आयकर विभाग ने 20 में से 10 ठिकानों पर कार्रवाई पूरी कर ली है।
Image
नेहा कक्कड़ की शादी तय - पंजाबी सिंगर से इसी महीने के आखिर तक रचाएंगी ब्याह
Image
वफ्फ बोर्ड ने कब्रिस्तान में मैयत दफनाने के संबंध में जारी किये दिशा-निर्देश
Image
दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने हरियाणवी सिंगर और डांसर सपना चौधरी के खिलाफ केस दर्ज किया - धोखाधड़ी का मामला
Image
बिल्डर के यहां आयकर छापा --- 100 से ज्यादा संपत्तियों का पता चला
Image
उत्तर प्रदेश के एक ग्राम पंचायत में ग्राम प्रधान के द्वारा मृत्यु प्रमाण पत्र (Death certificate) जारी किया गया , जिसे आप भी देखे
Image
स्किन और हेयर प्रॉब्लम्स से बचने के लिए डाइट में लें विटामिन ई का करे प्रयोग
Image
प्रदेश के गृह,पीडब्ल्यूडी, पर्यटन, संस्कृति मंत्री ताम्रध्वज साहू ने अंतर्राष्ट्रीय प्रेस स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दी मीडिया को बधाई एवं शुभकामनाएं दी
Image
चाणक्य नीति के अनुसार सच्चे मित्र की ऐसे करें पहचान…नहीं मिलेगा जीवन में कभी धोखा
Image