क्या आपको भी है सांस की बीमारी - तो बरतें यह सावधानी


Report manpreet singh 

Raipur chhattisgarh VISHESH : रायपुर, प्रदेश में कोरोना के केस, पिछले दो माहों की तुलना में कुछ कम जरूर हुए हैं लेकिन लोग अभी भी लगातार संक्रमित हो रहे हैं और कोविड डेथ एवं कोमार्बिडीटी डेथ भी हो रही है। इसीलिए चिकित्सक लगातार सावधानी बरतने की ताकीद दे रहे हैं। मेकाहारा के विशेषज्ञ चिकित्सक डॉ ओपी सुंदरानी का मानना है कि आगामी माहों में ठंड और प्रदूषण के कारण वैसे भी सांस की शिकायतों वाले मरीजों को दिक्कत होती है। यदि इन लोगों को कोविड संक्रमण हो जाएगा तो वह अत्यंत घातक होगा। 

इसलिए अभी त्योहार के मौसम में भीड़ से बचने, कोविड अनुकूल व्यवहार करने में ही भलाई है, मास्क लगाएं, दो गज की दूरी और हाथों की सफाई जरूरी है। डॉ. सुंदरानी ने युवाओं से विशेष अपील की है कि वे इस नाजुक समय में लापरवाह न बनें क्योंकि वे संक्रमित होंगे तो परिवार के बुजुर्गों एवं हाई रिस्क केटेगरी वाले व्यक्तियों को खतरा रहेगा। डॉ सुंदरानी लोगों में प्रचलित इस बात को भी नकारते हैं कि कितनी भी सावधानी बरते, यह संक्रमण सबको होना ही है। उन्होने कहा कि आई सी यू में भर्ती होने से अच्छा है कि लोग कुछ महीने और सावधानी से रहें,क्योंकि संक्रमण एक बार हो जाता है तो वह शरीर के महत्वपूर्ण अंगों को नुक्सान पहुंचाता है और संक्रमण समाप्त हो जाने के बाद भी स्वास्थ्य गत समस्याएं रहती ही हैं।

Popular posts
चाणक्य नीति के अनुसार सच्चे मित्र की ऐसे करें पहचान…नहीं मिलेगा जीवन में कभी धोखा
Image
बार बंद तो घर में शुरू कर दी हुक्का पार्टी -पुलिस ने की छापेमारी -धरे गए हुक्का पीते 11 रईसजादे
Image
राजधानी रायपुर से लगी खारून नदी के किनारे कुम्हारी से अमलेश्वर तक बनेगी 8 किमी नई सड़क
Image
सर्दियों में सॉफ्ट और खूबसूरत स्किन के लिए फॉलो करें ये जरूरी टिप्स, कोमल बनेगी त्वचा, ग्लो रहेगा बरकरार
Image
महिला कांस्टेबल ने साथ क्वारेंटीन होने BF को बनाया नकली पति, तभी आ पहुंची असली पत्नी फिर जो हुआ...
Image
PACL के 12 लाख निवेशकों को 429 करोड़ रुपये से ज्‍यादा का पेमेंट किया जा चुका है। इनमें ज्यादातर छोटे निवेशक हैं, जिन्होंने कंपनी पर 10,000 रुपये तक का दावा किया था - बैंक खाते में भेजे पैसे l
Image
हाथी के गोबर से बनी इस चीज का सेवन आप रोज करते हो.. जाने कैसे
Image