हवाई जहाज में सफर कर छत्तीसगढ़ पहुंची छात्रा दो दिन बाद मिली कोरोना पॉजिटिव, रह रही थी परिवार के साथ


Report manpreet singh 


Raipur chhattisgarh VISHESH : पुणे में पढ़ाई करने वाली छात्रा हवाई जहाज से रायपुर पहुंची। इसके बाद वह एयरपोर्ट में थर्मल स्क्रीनिंग से होकर गुजरी। किसी तरह के लक्षण नहीं होने से उसे होम क्वारंटाइन कर दिया गया. शासन के निर्देश पर प्रशासन ने शंकराचार्य मेडिकल कॉलेज में 113 बिस्तरों वाला कोविड अस्पताल जरुर बनाया है, लेकिन यहां पर बड़ी लापरवाही सामने आई। रविवार-सोमवार की दरम्यानी रात कोरोना पॉजिटिव मिलने पर 26 वर्षीय छात्रा को स्वास्थ्य विभाग का अमला 108 से लेकर सीधे कोविड हॉस्पिटल पहुंचा। रात लगभग 1 बजे छात्रा को जनरल वार्ड में शिफ्ट किया। इस दौरान स्वास्थ्यकर्मी लगातार अस्पताल प्रभारी को फोन लगाते रहे पर उन्होंने फोन नहीं उठाया। बाद में सीएमएचओ ने भी फोन लगाया पर नींद में सो रहे अधिकारी ने उनका भी फोन नहीं उठाया।


पुणे से लौटी है युवती 


एम्स ने पॉजिटिव रिपोर्ट आने की जानकारी रात 11 बजे के बाद दी। रिपोर्ट आते ही मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में कर्मचारी व अधिकारी तत्काल पहुंचे और कोरोना कन्र्फम मरीजों को ट्रेस करने दो अलग-अलग टीम रवाना की गई। रात लगभग 1 बजे टीम विद्याविहार कॉलोनी पहुंची और पुणे से 29 मई को शहर पहुंची छात्रा को ढूंढ निकाला। छात्रा के माता-पिता को क्वारंटाइन सेंटर पहुंचाया गया।


हवाई जहाज में सफर कर पहुंची शहर 


पुणे में पढ़ाई करने वाली छात्रा हवाई जहाज से रायपुर पहुंची। इसके बाद वह एयरपोर्ट में थर्मल स्क्रीनिंग से होकर गुजरी। किसी तरह के लक्षण नहीं होने से उसे होम क्वारंटाइन कर दिया गया। दूसरे दिन जिला अस्पताल पहुंची। सैंपल कलेक्ट करवाई तब एम्स ने पॉजिटिव रिपोर्ट जारी की।


अस्पताल प्रभारी ने नहीं उठाया फोन


कोविड अस्पताल प्रभारी डॉ. केडी तिवारी को कर्मचारियों ने फोन लगाया पर उन्होंने फोन नहीं उठाया। देर रात यह बात सीएचएमओ डॉ. गंभीर सिंह ठाकुर तक पहुंची। उन्होंने ने भी फोन लगाया। उनका फोन भी नहीं उठाया। डॉ.गंभीर सिंह ठाकुर, सीएमएचओ दुर्ग ने बताया कि कोविड अस्पताल में मरीजों का उपचार चल रहा है। छात्रा को भर्ती कराने ले जाने पर अस्पताल प्रभारी डॉ. तिवारी ने रात में फोन नहीं उठाया यह मेरे संज्ञान में आया था। सुबह मीटिंग में वे आए थे। उन्हें सख्त हिदायत दी गई है कि दोबारा ऐसी लापरवाही नहीं होनी चाहिए।


परिजनों को किया पेड क्वारंटाइन में शिफ्ट


पुणे से लौटी छात्रा के माता पिता को रात लगभग 2 बजे क्वारंटाइन सेंटर सेक्टर- 4 लाया गया। वहीं उसके भाई और एक सहेली को होम आइसोलेशन में रखा गया है। जानकारी के मुताबिक छात्रा के माता-पिता ने यह कहते हुए कि यहां व्यवस्था ठीक नहीं है, इसलिए स्थान परिर्वतन किया जाए। इसके बाद अधिकारियों ने उन्हें पेड क्वारंटाइन सेंटर में शिफ्ट किया।


Popular posts
स्किन और हेयर प्रॉब्लम्स से बचने के लिए डाइट में लें विटामिन ई का करे प्रयोग
Image
रायपुर , पूर्व विधायक श्री बैजनाथ चन्द्राकर ने करोना संक्रमण को देखते हुए छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी बैंक (अपेक्स बैंक) के प्राधिकारी के साथ मुख्यमंत्री सहयता कोष मे 10.00 लाख की राशि दी
Image
हास्य केंद्र योग के दसवें स्थापना वर्ष में शामिल हुए विधायक कुलदीप जुनेजा
Image
रायपुर में मिले 5 कोरोना मरीज
Image
ईद-उल-अजहा पर्व पर आज विधायक कुलदीप जुनेजा और छत्तीसगढ़ विशेष के सम्पादक मनप्रीत सिंह ने सभी प्रदेशवासियों को बधाई देते कहा कि ईद-उल-अजहा पर्व हमे भाईचारा एवं एकजुटता का संदेश देता है
Image
सर्दियों में सॉफ्ट और खूबसूरत स्किन के लिए फॉलो करें ये जरूरी टिप्स, कोमल बनेगी त्वचा, ग्लो रहेगा बरकरार
Image
बड़े SEX रैकेट का भंडाफोड़, 7 युवती सहित 19 गिरफ्तार, तीन होटल्स में छापा मारकर देह व्यापार के काले कारोबार का हुआ खुलासा
Image
महिला कांस्टेबल ने साथ क्वारेंटीन होने BF को बनाया नकली पति, तभी आ पहुंची असली पत्नी फिर जो हुआ...
Image
शरीर को डिटॉक्स करने का एक बेहतरीन तरीका, तलवों पर एक खास तरह की मिट्टी लगाना,
Image
राजधानी रायपुर के जिला अस्पताल में रात को 03 बच्चों ने दम तोड़ा, वहीं चश्मदीद (बेमेतरा से आए बच्चों के परिजन) ने 07 मौतों का दावा किया - बिना ऑक्सीजन रेफर करने का आरोप, पुलिस के दखल से ढाई घंटे बाद शांत हुए लोग
Image