भाजपा ने 15 वर्षों में जिस छत्तीसगढ़ को सँवारा, देश-विदेश में पहचान दी, भूपेश सरकार ने 15 महीनों में सब गुड़ गोबर कर दिया


Report manpreet singh 


Raipur chhattisgarh VISHESH : रायपुर, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने ने प्रदेश में हरेली त्योहार के दिन शुरू हुई गौ-धन न्याय योजना के औचित्य पर सवाल उठाते हुए नसीहत दी है कि छत्तीसगढ़ की ग्राम्य-संस्कृति और पर्व-परंपराओं का कांग्रेसीकरण करके प्रदेश सरकार छत्तीसगढ़ की भावनाओं के साथ खिलवाड़ करने से बाज आए। उपासने ने कहा कि प्रदेश की सरकारी ज़मीन बेचने पर आमादा प्रदेश सरकार अब संस्कृति, परंपरा और पर्वों जुड़ी आस्था की ब्रांडिंग कर छत्तीसगढ़ की संस्कृति और परंपराओं को भी बेचने का शर्मनाक कृत्य कर रही है।


भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता उपासने ने कहा कि गोबर खरीदने की योजना के नाम पर शुरू की गई इस योजना का स्वरूप ही अब तक स्पष्ट नहीं है। यह योजना किस उद्देश्य को लेकर शुरू की जा रही है, इसका क्रियान्वयन कैसे होगा, इसके लिए राशि का प्रबंध कहाँ से और कैसे होगा, प्रदेश सरकार की ओर से इसे लेकर कोई स्पष्ट धारणा प्रदेश को नहीं दी गई है। श्री उपासने ने कहा कि महज़ योजना शुरू करने के नाम पर हवा-हवाई बातें करके प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ की भावनाओं से खेलने का काम कर रहे हैं। प्रदेश की लोक-संस्कृति और पर्व-परंपराओं का कांग्रेसीकरण करने में मशगूल मुख्यमंत्री के पास किसी भी योजना को लेकर कोई स्पष्ट दृष्टिकोण है ही नहीं और यही कारण है कि प्रदेश सरकार की तमाम योजनाएँ नीति, नीयत और नेतृत्व में खोट के चलते औंधे मुँह गिरी पड़ी हैं।


भाजपा प्रदेश प्रवक्ता उपासने ने कहा कि जो बातें और जो काम छत्तीसगढ़ की परंपराओं में रचे-बसे हैं, जो सांस्कृतिक विरासत और पर्व-परंपरा छत्तीसगढ़ की थाती है, वह किसी सरकारी नौटंकियों की मोहताज़ नहीं है। लेकिन प्रदेश सरकार अपने मूल कार्य से भटक कर प्रदेश सरकार अपनी नाकामियों पर पर्दा डालने के लिए अब छत्तीसगढ़ के लोक-पर्वों की ब्रांडिंग करने और उनका राजनीतिकरण करके सिर्फ़ हवाई किले बांधने का काम कर रही है। उन्होंने जानना चाहा है कि बात-बात पर प्रदेश की कंगाली का रोना रोती प्रदेश सरकार गोबर खरीदने के लिए आख़िर राशि कहाँ से जुटाएगी, उपासने ने तंज कसा कि किसानों को धान मूल्य की अंतर राशि के लिए रची गई न्याय योजना के ढोंग की पोल खुलने के बाद अब प्रदेश सरकार गौ-धन न्याय योजना की यह नई नौटंकी लेकर आई है, तो क्या इस योजना में भी वैसा ही न्याय होगा, जैसा किसानों के साथ हो रहा है?


भाजपा प्रदेश प्रवक्ता उपासने ने इसी परिप्रेक्ष्य में रोका-छेका योजना को लेकर कहा कि मुख्यमंत्री बघेल ने इस योजना के नाम पर भी प्रदेश को भरमाने और रोका-छेका की वर्षों से चली आ रही ग्राम्य-परंपरा को बदनाम करने में कोई क़सर नहीं छोड़ी है। इस योजना से पहले प्रदेश में इतनी बड़ी संख्या में कभी लगातार पशुधन की मौतों के मामले नहीं सुने जा रहे थे लेकिन अब इस योजना क्या हश्र हो रहा है, प्रदेश इसका साक्षी है। गौ-वंश की रक्षा न कर पाना प्रदेश सरकार के कृषि-विरोधी चरित्र का परिचायक है। कुल मिलाकर, गौ-धन न्याय योजना और ‘रोका-छेका’ की एक नई सियासी नौटंकी खेलकर वे अपने दोहरे राजनीतिक चरित्र का प्रदर्शन कर रहे हैं। उपासने ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल जी ने जिस छत्तीसगढ़ राज्य का निर्माण किया और भाजपा ने अपने सुशासन की बदौलत 15 वर्षों में जिसे सँवारने और देश-विदेश में एक पहचान दिलाने का काम किया, भूपेश सरकार ने 15 महीनों में ही सब गुड़ गोबर करके रख दिया है।


 


Popular posts
स्किन और हेयर प्रॉब्लम्स से बचने के लिए डाइट में लें विटामिन ई का करे प्रयोग
Image
रायपुर , पूर्व विधायक श्री बैजनाथ चन्द्राकर ने करोना संक्रमण को देखते हुए छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी बैंक (अपेक्स बैंक) के प्राधिकारी के साथ मुख्यमंत्री सहयता कोष मे 10.00 लाख की राशि दी
Image
हास्य केंद्र योग के दसवें स्थापना वर्ष में शामिल हुए विधायक कुलदीप जुनेजा
Image
रायपुर में मिले 5 कोरोना मरीज
Image
ईद-उल-अजहा पर्व पर आज विधायक कुलदीप जुनेजा और छत्तीसगढ़ विशेष के सम्पादक मनप्रीत सिंह ने सभी प्रदेशवासियों को बधाई देते कहा कि ईद-उल-अजहा पर्व हमे भाईचारा एवं एकजुटता का संदेश देता है
Image
सर्दियों में सॉफ्ट और खूबसूरत स्किन के लिए फॉलो करें ये जरूरी टिप्स, कोमल बनेगी त्वचा, ग्लो रहेगा बरकरार
Image
बड़े SEX रैकेट का भंडाफोड़, 7 युवती सहित 19 गिरफ्तार, तीन होटल्स में छापा मारकर देह व्यापार के काले कारोबार का हुआ खुलासा
Image
महिला कांस्टेबल ने साथ क्वारेंटीन होने BF को बनाया नकली पति, तभी आ पहुंची असली पत्नी फिर जो हुआ...
Image
शरीर को डिटॉक्स करने का एक बेहतरीन तरीका, तलवों पर एक खास तरह की मिट्टी लगाना,
Image
राजधानी रायपुर के जिला अस्पताल में रात को 03 बच्चों ने दम तोड़ा, वहीं चश्मदीद (बेमेतरा से आए बच्चों के परिजन) ने 07 मौतों का दावा किया - बिना ऑक्सीजन रेफर करने का आरोप, पुलिस के दखल से ढाई घंटे बाद शांत हुए लोग
Image