लोगों ने अपनी जान की परवाह ना करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग पूरी तरह ध्वस्त किया --- साथ ही आज सुबह छूट मिलते ही दुकानों के बाहर उमड़ी लोगों की भीड़

 


 



Report manpreet singh 


RAIPUR chhattisgarh VISHESH : रायपुर में मिल रहे रिकार्ड तोड़ मरीजों ने पूरे प्रदेश के कोरोना का ग्राफ बढ़ा दिया है। यही वजह है कि सरकार ने 28 जुलाई के बाद लॉकडाउन को 6 अगस्त तक बढ़ा दिया है। हालांकि दो दिनों की राहत त्यौहार की खरीदी के लिए दी गई है, जिसका आज पहला दिन है। सरकार ने रायपुर, दुर्ग  , महासमुंद और अंबिकापुर जिले में 29 और 30 जुलाई को सुबह 6 बजे से 10 बजे तक 4 घंटे की छूट दी है।


छत्तीसगढ़ विशेष का आम जनता को अपील /आग्रह है कि , घर मे रहे सुरक्षित रहे ,हमारे ऐसा करने पर छत्तीसगढ़ राज्य को बहुत जल्द होना होगा कोरोना मुक्त lजहा कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए प्रशासन द्वारा मुस्तेदी से कार्य किया जा रहा है।वही जनता से भी यहि अपेक्षा रखी जारहा है  , वही छत्तीसगढ़ विशेष भी इस कार्य मे लगातार प्रयासरथ है, छत्तीसगढ़ विशेष अपने पाठकों को इस विषय मे हमेशा से सचेत कर्ता रहा है l


बुधवार सुबह छूट मिलते ही दुकानों के बाहर लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी है। कई स्थानों पर लोग सुबह से लाइन लगाए हैं, तो मुख्य बाजारों में सोशल डिस्टेंसिंग ध्वस्त हो चुकी है। रायपुर के गोल बाजार सहित मुख्य बाजारों में भीड़ के चलते कोविड-19 को लेकर बनाए गए नियम दरकिनार हो गए हैं। लोग मास्क तो लगाए हैं, लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग खत्म हो गई है। दुकानों के बाहर भी जाम लग गया है।


बकरीद और रक्षाबंधन के पर्व को देखते हुए प्रदेश सरकार ने 29 और 30 जुलाई को 4 घंटे की छूट दी है। इस दौरान सुबह 6 बजे से 10 बजे तक किराना दुकानें खुलेंगी। बुधवार को डीडी नगर स्थित डी-मार्ट खुलने से पहले ही सुबह 5.30 बजे से लोगों की लाइन लग गई। ऐसा पहली बार हुआ कि जब कैंपस में चार टुकड़ों में लाइन लगवाई गई है। रायपुर के डीडी नगर स्थित डी-मार्ट खुलने से पहले ही सुबह 5.30 बजे से लोगों की लाइन लग गई। ऐसा पहली बार हुआ कि जब कैंपस में चार टुकड़ों में लाइन लगवाई गई है।


 वहीं रायपुर स्थित गोल बाजार सहित अन्य किराना दुकानों पर भी लोगों की भारी भीड़ लग गई है। शहर की सड़कों पर कई जगह जाम के हालात हैं। मुख्य बाजारों में भीड़ के चलते कोविड-19 को लेकर बनाए गए नियम दरकिनार हो गए हैं। लोग मास्क तो लगाए हैं, लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग खत्म हो गई है। दुकानों के बाहर भी जाम लग गया है।


दो दिन की मिली इस छूट में लोग ज्यादा से ज्यादा सामान स्टॉक करने में लगे हुए हैं। लोगों को आशंका है कि जिस तेजी से संक्रमण और मरीजों का आंकड़ा बढ़ रहा है, लॉकडाउन बढ़ाया जा सकता है। वहीं अगस्त में कई त्यौहार होने के कारण लोगों की परेशानी भी और बढ़ गई है। इसके चलते दुकानों पर भारी भीड़ उमड़ रही है। जिसका फायदा दुकानदारों ने भी बहुत उठाया, कईयों से ये शिकायत भी मिली है कि दुकानदार अनाप सनाप रेट मे माल बेच रहे है l दुकानदार को छूट देकर मानो दुकानदारों की निकल पडी है उनके लिए ये समय कोई दिवाली से कम नहीं है l इस ओर शासन को गम्भीरता से सोचना चाहिए कि दुकानों को छूट दे कर कहीं कारोंना को बढ़ावा तो नहीं दे रही है l


Popular posts
हाथी के गोबर से बनी इस चीज का सेवन आप रोज करते हो.. जाने कैसे
Image
बार बंद तो घर में शुरू कर दी हुक्का पार्टी -पुलिस ने की छापेमारी -धरे गए हुक्का पीते 11 रईसजादे
Image
राजधानी रायपुर से लगी खारून नदी के किनारे कुम्हारी से अमलेश्वर तक बनेगी 8 किमी नई सड़क
Image
सर्दियों में सॉफ्ट और खूबसूरत स्किन के लिए फॉलो करें ये जरूरी टिप्स, कोमल बनेगी त्वचा, ग्लो रहेगा बरकरार
Image
महिला कांस्टेबल ने साथ क्वारेंटीन होने BF को बनाया नकली पति, तभी आ पहुंची असली पत्नी फिर जो हुआ...
Image
छत्तीसगढ़ में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, पुलिस ने 6 लोगों को किया गिरफ्तार
Image
PACL के 12 लाख निवेशकों को 429 करोड़ रुपये से ज्‍यादा का पेमेंट किया जा चुका है। इनमें ज्यादातर छोटे निवेशक हैं, जिन्होंने कंपनी पर 10,000 रुपये तक का दावा किया था - बैंक खाते में भेजे पैसे l
Image