अनलॉक 5.0 में सभी क्लास के लिए खुलेंगे स्कूल - जानें क्या है सरकार की योजना, यह है सबसे बड़ी अड़चन


Report manpreet singh 

Raipur chhattisgarh VISHESH : देश में लगातार कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं. ऐसे में स्कूल कॉलेज खोलने को लेकर संशय की स्थिति बनी है. इस बीच 21 सितंबर से देश के कई राज्यों में आंशिक तौर से स्कूल खोले जा चुके हैं, लेकिन अभी भी ज्यादातर राज्यों में स्कूल बंद हैं. राज्य सरकरों के साथ बच्चों के अभिभावक भी कोरोना काल में बच्चों को स्कूल भेजने के बारे में कोई ठोस निर्णय नहीं ले पा रहे हैं. ज्यादातर राज्यों में अभी भी बच्चे ऑनलाइन  पढ़ाई पर ही निर्भर हैं. अब उम्मीद है कि सरकार स्कूल कॉलेज को सुचारु रूप से खोलने के लिए अनलॉक 5.0 की  गाइडलाइन में कुछ नियम तय करेगी

आपको बता दें कि इस समय भारत कोरोना वायरस लॉकडाउन के बाद अनलॉक के चौथे चरण में हैं और इसके लिए केंद्र सरकार की तरफ से अगस्त में गाइडलाइन जारी की गई है. इस गाइड लाइन में 9वीं कक्षा लेकर 12वीं कक्षा तक के छात्रों के लिए स्कूल खोलने की बात कही गई थी. इसके लिए सरकार ने कुछ नियम तय किए थे जिसमें सरकार ने स्पष्ट तौर पर इस बात पर जोर दिया था कि कोरोना काल में स्कल की तरफ से किसी भी छात्र को स्कूल आने के लिए जोर नहीं डाला जाएगा.

इसी के साथ यह भी कहा गया था कि जो भी छात्र टीचर्स से परामर्श लेने के लिए स्कूल जाएंगे उन्हें पहले अपने पैरेंट्स से एक नोट लिखा कर इजाजत लेनी पड़ेगी. अब अक्टूबर शुरू होते ही देश अनलॉक के पांचवे चरण में प्रवेश करेगा. केंद्र सरकार अनलॉक 5.0 को लेकर एक दो दिन के अंदर गाइडलाइन जारी कर सकती है. हालांकि अभी कोरोना के बढ़ते मामले स्कूल कॉलेज को खोलने की राह में सबसी बड़ी अड़चन हैं और इसी वजह से अभिभाव भी स्कूल खोलने के पक्ष में नहीं दिख रहे हैं.

अनलॉक 5.0 की गाइडलाइन में उम्मीद है कि सरकार स्कूल को पहले की तरह सभी क्लासेस के लिए खोलने की अनुमति दे सकती है. हालांकि इसके लिए कुछ नियम निर्धारित किए जा सकते हैं. फिलहाल अभी तक सरकार की तरफ से स्कूल कॉलेज को लेकर किसी भी तरह की कोई जानकारी नहीं दी गई है. पिछले 6 महीनें से कोरोना वायरस की वजह से पढ़ाई बुरी तरह से प्रभावित हुई है तो इस बात की उम्मीद ही जताई जा रही है कि सरकार अब स्कूल को पहले की तरह फिर से चलाने की इजाजत दे सकती है. यह तो अनलॉक 5.0 की गाइडलाइन में ही साफ हो पाएगा कि बच्चे 1 अक्टूबर से स्कूल जा पाएंगे या फिर कुछ महीनों का फिर से करना पड़ेगा इंतजार.

जिन राज्यों में स्कूल खोले गए हैं उनमें अभी भी पहले की तरह क्लासेस नहीं शुरू की गई है. छात्र केवल परामर्श के लिए स्कूल पहुंच रहे हैं. जहां प्राइवेट संस्थान खोले गए हैं वहां कई तरह के नियम भी निर्धारित हुए हैं. यूपी के लखनऊ में प्राइवेट संस्थानों ने स्कूल को दो शिफ्ट में चलाने का फैसला किया है ताकि सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे. स्कूल प्रशासन काफी ऐहतियात बरत रहा है. बच्चों के आने के लिए एक की जगह दो गेट भी ओपेन किए गए हैं. एक क्लास में मात्र 20 छात्रों के बैठने की व्यवस्था की गई है. बच्चे टिफिन की शेयरिंग नहीं कर सकेंगे.



Popular posts
हास्य केंद्र योग के दसवें स्थापना वर्ष में शामिल हुए विधायक कुलदीप जुनेजा
Image
स्किन और हेयर प्रॉब्लम्स से बचने के लिए डाइट में लें विटामिन ई का करे प्रयोग
Image
ईद-उल-अजहा पर्व पर आज विधायक कुलदीप जुनेजा और छत्तीसगढ़ विशेष के सम्पादक मनप्रीत सिंह ने सभी प्रदेशवासियों को बधाई देते कहा कि ईद-उल-अजहा पर्व हमे भाईचारा एवं एकजुटता का संदेश देता है
Image
सर्दियों में सॉफ्ट और खूबसूरत स्किन के लिए फॉलो करें ये जरूरी टिप्स, कोमल बनेगी त्वचा, ग्लो रहेगा बरकरार
Image
शरीर को डिटॉक्स करने का एक बेहतरीन तरीका, तलवों पर एक खास तरह की मिट्टी लगाना,
Image
सीएम, स्वास्थ्य और गृह मंत्री शामिल हुए #MeAt20 चैलेंज में , की अपनी फोटो पोस्ट
Image
खारुन नदी तट के पुरातात्विक स्थलों से बनेगी छत्तीसगढ़ की विश्व में पहचान….!!
Image
वन विभाग के कार्यालयों में उप वन क्षेत्रपाल/वन पाल/ वन रक्षक से लिपकीय कार्य नही लिये जाने का फरमान जारी
Image
रायपुर , पूर्व विधायक श्री बैजनाथ चन्द्राकर ने करोना संक्रमण को देखते हुए छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी बैंक (अपेक्स बैंक) के प्राधिकारी के साथ मुख्यमंत्री सहयता कोष मे 10.00 लाख की राशि दी
Image
शराब दुकान में घुसकर रात भर पीता रहा
Image