प्राइवेट स्कूलों ने नोटिस छपवाकर मांगी फीस - कहा नहीं दी तो बच्चों को कर देंगे ऑनलाइन स्कूल से बाहर


Report manpreet singh 

Raipur chhattisgarh VISHESH : छत्तीसगढ़ प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने समाचार पत्रों में वैधानिक नोटिस प्रकाशित करा पालकों को 9 सितंबर तक फीस जमा करने का सार्वजनिक नोटिस दे दिया।

भिलाई, लॉकडाउन के साथ ही बंद हुए स्कूल और शुरू हुई ऑनलाइन क्लास के बाद स्कूल मैनेंजमेंट लगातार पालकों से फीस मांग रहा है। हद तो तब हो गई जब छत्तीसगढ़ प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने समाचार पत्रों में वैधानिक नोटिस प्रकाशित करा पालकों को 9 सितंबर तक फीस जमा करने का सार्वजनिक नोटिस दे दिया। साथ ही फीस जमा न करने की स्थिति में ऑनलाइन क्लास से वंचित किए जाने की बात उसमें लिख दी। इस नोटिस के प्रकाशित होने के बाद पालक भी आक्रोश में आकर हाईकोर्ट का हवाला देकर फीस जमा नहीं करने की बात कह रहे है। वहीं शिक्षा विभाग कुछ बोलने की स्थिति में ही नहीं है।

विभाग का कहना है कि पालकों और स्कूल प्रबंधन को आमने सामने बात कर इस मामले को सुलझाना चाहिए। स्कूल प्रबंधन, पालक और शिक्षा विभाग के बीच अब यह मुद्दा बड़े विवाद का रूप ले रहा है। सबके अपने तर्क है और सभी अपनी बात को सही बता रहे हैं। इन सब के बीच विभाग, हाईकोर्ट के फैसले और आरटीई एक्ट का हवाला देकर सभी अपनी बात मनवाने आतुर है। इंडीपेंडेंट स्कूल एसोसिएशन में दुर्ग-भिलाई के 26 स्कूल सदस्य है और यहां करीब 60 हजार से ज्यादा बच्चे पढ़ते हैं।

Popular posts
हाथी के गोबर से बनी इस चीज का सेवन आप रोज करते हो.. जाने कैसे
Image
वन विभाग के कार्यालयों में उप वन क्षेत्रपाल/वन पाल/ वन रक्षक से लिपकीय कार्य नही लिये जाने का फरमान जारी
Image
खुदा से डरे - गरीबो को राशन या सहायता प्रदान करते समय फ़ोटो न खिंचाए न ही शेयर करे, ये सम्मान की बात नही
Image
छत्तीसगढ़ में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, पुलिस ने 6 लोगों को किया गिरफ्तार
Image
PACL के 12 लाख निवेशकों को 429 करोड़ रुपये से ज्‍यादा का पेमेंट किया जा चुका है। इनमें ज्यादातर छोटे निवेशक हैं, जिन्होंने कंपनी पर 10,000 रुपये तक का दावा किया था - बैंक खाते में भेजे पैसे l
Image
छत्तीसगढ़ में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, कचरा गोदाम खुलवाया गया तो युवकों ने पुलिस पर हमला करने की कोशिश मगर फोर्स को हावी होता देख, ठंडे पड़ गए और 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया
Image