एक महिला से जुड़े घरेलू हिंसा के मामले में महिला आयोग का सख्त फरमान - दर्ज हो एफआईआर, पुलिस ने करवा दिया समझौता!

 


Report manpreet singh 

Raipur chhattisgarh VISHESH : शादी फिर धोखा, आयोग ने कहा- दर्ज हो एफआईआर, पुलिस ने करवा दिया समझौता! एक महिला से जुड़े घरेलू हिंसा के मामले में महिला आयोग का सख्त फरमान अब थाना पहुंचने के बाद कागज का टुकड़ा मात्र बनकर रह गया है लिव इन रिलेशनशिप और फिर शादी, इसके बाद धोखा... ऐसे मामले में कुछ यही कारनामा सामने आया है, जब पुलिस पर स्टांप में पीड़िता से हस्ताक्षर करवाकर समझौता नामा बना देने की शिकायत महिला आयोग के पास पहुंची। मामले की गंभीरता देखकर आयोग ने थाना प्रभारी को ही अपनी अदालत में तलब कर दिया है। आयोग ने साफ कहा है, सख्त कार्रवाई की अनुशंसा किए जाने के बाद थाने में महिला पर दबाव बनाया गया। अंदेशा ऐसा भी है, उसे खाली स्टांप पर गलत बयान लिखकर मामले को रफा-दफा करने की कोशिश की गई। अब इस मामले में बारीकी से जांच होगी। थाना प्रभारी खुद पक्षकारों के साथ सुनवाई के लिए आए l

 रायपुर. एक महिला से जुड़े घरेलू हिंसा के मामले में महिला आयोग का सख्त फरमान अब थाना पहुंचने के बाद कागज का टुकड़ा मात्र बनकर रह गया है। लिव इन रिलेशनशिप और फिर शादी, इसके बाद धोखा... ऐसे मामले में कुछ यही कारनामा सामने आया है, जब पुलिस पर स्टांप में पीड़िता से हस्ताक्षर करवाकर समझौता नामा बना देने की शिकायत महिला आयोग के पास पहुंची। मामले की गंभीरता देखकर आयोग ने थाना प्रभारी को ही अपनी अदालत में तलब कर दिया है। आयोग ने साफ कहा है, सख्त कार्रवाई की अनुशंसा किए जाने के बाद थाने में महिला पर दबाव बनाया गया। अंदेशा ऐसा भी है, उसे खाली स्टांप पर गलत बयान लिखकर मामले को रफा-दफा करने की कोशिश की गई। अब इस मामले में बारीकी से जांच होगी। थाना प्रभारी खुद पक्षकारों के साथ सुनवाई के लिए हाजिर होंगे l आज आखिरी दिन भी सुनवाई महिला आयोग द्वारा पुरानी शिकायतों पर कार्रवाई चल रही है। इसी कड़ी में महिला संबंधी अपराधों पर सुनवाई के लिए पक्षकारों के बयान लिए जा रहे हैं। 9 से 11 सितंबर सुनवाई की तारीखें तय की गईं। शुक्रवार को आखिरी दिन भी मामलों में सुनवाई होगी। दूसरे दिन आयोग की अदालत नहीं आने वाले पक्षकारों को दोबारा नोटिस भेजा गया। पुलिस की तरफ से अपनी दलीलें युवती से जुड़े मामले में आयोग ने अनुशंसा की थी, लेकिन उसने एफआईआर दर्ज कराने से इनकार कर दिया। पहले से पक्षकार अपने पास समझौतानामा तैयार कर थाना पहुंचे थे। यहां कभी भी किसी तरह का दबाव नहीं बनाया गया। समझौते में बताया गया, स्टांप कोर्ट में तैयार किया गया था। पक्षकारों काे जब काउंसिलिंग में बुलाया, तब इसका पता चला। टीआई को बुलाया युवती से जुड़े मामले में जबरिया समझौता कराए जाने का पता चला है। केस की गंभीरता देखते हुए आरोपी पक्षकारों पर एफआईआर दर्ज कराने आयोग ने अनुशंसा की थी। मामला फिर संज्ञान में लेकर टीआई से जवाब तलब किया जाएगा। - किरणमयी नायक, अध्यक्ष, राज्य महिला आयोग

Popular posts
एयर चीफ मार्शल राकेश भदौरिया का बड़ा बयान- LAC पर भारतीय वायुसेना चीन पर पड़ेगी भारी
Image
शैक्षणिक सत्र 2020-21 के लिए तकनीकी पाठ्यक्रमों,PET, PPHT, PPT और PMCA की परीक्षाएं रद्द --- शैक्षणिक योग्यता और प्राप्तांक के आधार पर मिलेगी प्रवेश,देखे आदेश
Image
प्रशासन को सूद नहीं - रायपुर शहर के श्मशानघाटों पर अब चिता की लकड़ी भी आम आदमी की पहुंच से बाहर - चिता की लकड़ी 800 क्विंटल, कंडा 500 सैकड़ा
Image
4 साल की मासूम का किडनैप के बाद रेप, हत्या के बाद छुपाया पलंग के नीचे बच्ची की लाश को पलंग के नीचे छुपाकर बच्ची को ढूंढने का नाटक करने लगा
Image
हर किसी को दीवाना बनाती है मिजोरम की सुंदर घाटीया
Image
छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार पर आदिवासियों के साथ छल, कपट और अन्याय का आरोप --- पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल
Image
ऐश्वर्या राज बच्चन और बेटी आराध्या को अस्पताल से छुट्टी….
Image
पीएम मोदी ने ट्वीट कर जापान के नए प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा को बधार्ई दी
Image
रिसाली नगर निगम अंतर्गत नेवई एवं स्टेशन मरोदा की भूमि भिलाई इस्पात संयंत्र से राज्य शासन को हस्तांतरित करने, गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने केन्द्रीय इस्पात मंत्री श्री धर्मेन्द्र प्रधान को पत्र लिख कर आग्रह किया  
Image
कब्ज के लिए रामबाण दवा है सेंधा नमक, ऐसे करें सेवन
Image