एक अक्टूबर 2020 से केंद्र सरकार ने नए मोटर व्‍हीकल रूल्‍स लागू किया - इसमे एक तरफ पेपर रखने से निजात मिली तो दूसरी तरफ छोटी सी भी गलती हो, तो हो सकता है आपका ड्राइविंग लाइसेंस रद्द, देखे नियम


 Report manpreet singh 

Raipur chhattisgarh VISHESH : एक अक्टूबर 2020 से केंद्र सरकार ने नए मोटर व्‍हीकल रूल्‍स लागू कर दिए हैं। इसके तहत लोगों को आरसी, इंश्‍योरेंस और ड्राइविंग लाइसेंस जैसे अहम डॉक्‍युमेंट्स को साथ लेकर चलने के झंझट से निजात दी गई है। वहीं, दूसरी तरफ आपकी एक छोटी सी गलती भी आपके ड्राइविंग लाइसेंस को रद्द करने के लिए काफी होगी। ट्रैफिक डिपार्टमेंट अब मॉडर्न टेक्‍नोलॉजी का इस्‍तेमाल कर प्राइवेट और कमर्शियल व्‍हीकल्‍स के ड्राइवरों के व्‍यवहार पर नजर रखेगा।

नए नियमों के मुताबिक, पुलिस या यातायात अधिकार के साथ खराब व्‍यवहार, गाड़ी नहीं रोकने, ट्रक के केबिन में सवारी बैठाने को खराब बर्ताव माना जाएगा। ऐसा पाए जाने पर ड्राइविंग लाइसेंस सस्‍पेंड या रद्द किया जा सकता है। साथ ही जुर्माना भी लगाया जा सकता है। सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रायल की ओर से अधिसूचित नए नियमों के मुताबिक, मोटर वाहन अधिनियम-1988 की धारा-19, 21 के तहत बस, टैक्सी में ज्‍यादा सवारी बैठना, सवारी के साथ दुर्व्यवहार, स्‍टॉप पर नहीं उतारना, बस चलाते हुए धूमपान करना, शराब पीकर गाड़ी चलाना, बेवजह वाहन धीरे चलाना, बस में सिगरेट पीना अब ड्राइवर को महंगा पड़ेगा।

यातायात पुलिस खराब व्‍यवहार वाले ड्राइवरों पर जुर्माना लगाने के साथ ही उनका डीएल निलंबित या रद्द कर सकती है। ऐसे ड्राइवरों की गाड़ी का रजिस्‍ट्रेशन भी निलंबित या रद्द करने का प्रावधान होगा। इसमें वाहन में बैठी सवारी को उतारकर प्रदर्शन और हड़ताल में शामिल होने वाले तथा करने बुकिंग के बाद भी सवारी को ले जाने से इनकार करने वाले कैब के ड्राइवर भी शामिल हैं। वहीं, नए नियमों के तहत यातायात पुलिस और आरटीओ को जुर्माना राशि व ड्राइवरों के खिलाफ की गई कार्रवाई की जानकारी पोर्टल पर दर्ज करना अनिवार्य होगा। उन्‍हें हर दिन पोर्टल को अपडेट करना होगा, जिससे ड्राइवरों के व्‍यवहार का पूरा ब्‍योरा हासिल किया जा सके।

नए कानून में अधिकारियों को दंडित ड्राइवर के व्यवहार का जिक्र भी करना होगा। इससे ड्राइवर के बारे में हर तरह की जानकारी ऑनलाइन पोर्टल पर डाली जा सके। उपद्रव, जनता के लिए खतरा पैदा करने, वाहन चोरी, यात्रियों पर हमला, सामान की चोरी करने वाले ड्रावइरों का डीएल रद करने का प्रावधान पहली बार किया गया है। सरकार पोर्टल पर भी इसका रिकॉर्ड रखेगी। इससे भविष्य में ड्राइवर के व्यवहार की ऑनलाइन निगरानी हो सकेगी। इसके अलावा 1 अक्‍टूबर 2020 से डीएल और वाहनों के दस्तावेज पोर्टल पर रखने की सुविधा शुरू हो रही है। इससे पुलिस-परिवहन अधिकारी जांच के नाम पर कहीं भी व्‍हीकल रोककर फिजिकल डॉक्‍युमेंट्स की मांग नहीं कर सकेंगे

Popular posts
ईद-उल-अजहा पर्व पर आज विधायक कुलदीप जुनेजा और छत्तीसगढ़ विशेष के सम्पादक मनप्रीत सिंह ने सभी प्रदेशवासियों को बधाई देते कहा कि ईद-उल-अजहा पर्व हमे भाईचारा एवं एकजुटता का संदेश देता है
Image
फेफड़ों को स्वस्थ और साफ रखने के लिए इन चीज़ों का रोजाना करें सेवन
Image
अखिर कार 4 हजार करोड़ की लागत से डोंगरगढ़-कवर्धा-कटघोरा रेल लाइन को रेल मंत्रालय ने मंजूरी दी,जल्द दौड़ेगी ट्रेन
Image
हास्य केंद्र योग के दसवें स्थापना वर्ष में शामिल हुए विधायक कुलदीप जुनेजा
Image
छत्तीसगढ़ विशेष के सम्पादक मनप्रीत सिंह ने राज्य के संसदीय सचिव एवं महासमुंद विधायक विनोद चंद्राकर जी को जन्म दिन की शुभकामनाये देते हुए जल्दी स्वस्थ होने की कामना की
Image
CG VESHESH SPECIAL : "मानव सेवा उत्तम सेवा " स्वैच्छिक कर्फ्यू में सेवा करते गुरुद्वारा गुरु सिंग सभा पंडरी रायपुर के सेवादार
Image
नगर पंचायत छुईखदान के अध्यक्ष दीपाली जैन द्वारा सीएमओ को कथित रूप से धमकी देने का ऑडियो, ऑडियो में कहा लाखों खर्च किया है चुनाव में, वायरल होने के बाद मचा बवाल
Image
आइए सच्चाई जाने इस बात की --- क्या हर कोरोना मरीज के पीछे केंद्र सरकार से मिलेंगे 1.5 लाख रुपये ?
Image
विवादों के बीच BMC ने ध्वस्त किया कंगना रनौत का ऑफिस - बॉम्बे हाईकोर्ट ने कंगना रनौत के दफ्तर में तोड़फोड़ पर लगाई रोक
Image
एक आदमी की मौत पर मार डाले 300 से ज्यादा घड़ियाल, हैरतअंगेज है वारदात
Image