जानिए आपकी राशि पर क्या होगा प्रभाव -- 05 जून को लगेगा चंद्रग्रहण


रिपोर्ट मनप्रीत सिंह 


रायपुर छत्तीसगढ़ विशेष :कोरोना संकट के बीच 5 जून को चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है। बताया जा रहा है कि यह उपच्छाया ग्रहण होगा, जो भारत में दिखाई नहीं देगा। वहीं ग्रहण के दौरान सूतक भी भारत में मान्य नहीं होगा। चंद्र ग्रहण 5 जून को रात 11 बजकर 15 मिनट पर लगेगा जो 6 जून की सुबह 2 बजकर 34 मिनट पर खत्म होगा। ग्रहण का प्रभाव राशियों पर भी होगा। इस समय 6 ग्रह वक्री चल रहे हैं। राहु- केतु के अलावा इस समय शनि, बृहस्पति, शुक्र और प्लूटो ये चारों ग्रह भी वक्री चल रहे हैं।


मेष- परिवार के सदस्यों की सेहत पर ध्यान दें। मन में कई तरह के तनाव आ सकते हैं लेकिन आपको वाद-विवाद से दूर रहना है। मकान और घर को लेकर समस्याएं आ सकती हैं और निर्णय लेने में कुछ कठिनाई आ सकती है। इस दौरान आपको खुद को संभाल कर रखना है। ग्रहण काल में मंत्र का जाप कर अपने राशि के स्वामी मंगल को प्रबल करें। ग्रहण काल खत्म होने के बाद किसी गरीब व्यक्ति को गुड़ और चावल का दान करें।


वृषभ- इस ग्रहण का असर आपके रिश्तों पर पड़ेगा और आपका कोई संबंध अचानक खत्म हो सकता है। किसी के साथ व्यापार में साझेदारी खत्म हो सकती है। इसकी वजह से आप थोड़े तनाव में आ सकते हैं। अपने और अपनी पत्नी के सेहत का विशेष ध्यान रखें। पति-पत्नी के बीच मनमुटाव भी हो सकता है। ग्रहणकाल में शुक्र के मंत्रों का जाप करें। ग्रहणकाल के बाद किसी गरीब व्यक्ति को दूध का दान करें।


मिथुन- आपको इस दौरान किसी महिला के आरोप से बचकर रहना है। किसी महिला से इस कदर अनबन हो सकती है कि मामला कोर्ट कचहरी तक पहुंच सकता है। इसलिए आपको बहुत सावधान रहने की जरूरत है। मानसिक तनाव से गुजर सकते हैं और थोड़ी सेहत भी खराब हो सकती है। इस राशि की महिलाओं को भी अपनी सेहत पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। कर्ज का कोई मामला परेशान कर सकता है। धन के मामले में भी संभल कर रहने की जरूरत है। बुध के मंत्रों का जाप करें। ग्रहणकाल खत्म होने पर किसी निर्धन को मीठी खीर दान में दें


कर्क- चंद्र ग्रहण लगने पर कर्क राशि वालों पर इसका सीधा प्रभाव पड़ता है क्योंकि इस राशि के स्वामी चंद्रमा ही हैं। ये ग्रहण आपके लिए थोड़ी परेशानी ला सकता है। रिश्ते, शिक्षा और संतान इन तीनों तरफ आपको सावधान रहने की जरूरत है। गर्भवती महिलाओं को अपना खास ख्याल रखने की जरूरत है। रिश्तों में गलतफहमी से बच कर रहने की जरूरत होगी। आपके लिए इंद्र गायत्री मंत्र बहुत लाभकारी रहेगा। ग्रहण के 15 दिन के आस-पास अपनी माता को चांदी का ग्लास दें।


सिंह- इस ग्रहणकाल के दौरान आपकी माता को तनाव हो सकता है, उनकी सेहत पर ध्यान दें। घर से जुड़ी कोई समस्या हो सकती है। माता के साथ कोई वाद-विवाद करने से बचें। छोटी-छोटी बातों को लेकर भी घर में तनाव हो सकता है लेकिन आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। ग्रहणकाल में सूर्य और चंद्रमा के मंत्रों का जाप करना है। ग्रहण के बाद गुड़ और चीनी दोनों का दान करें।


कन्या- इस दौरान आत्मविश्वास में कमी आएगी और आपकी किसी के साथ दोस्ती खत्म हो सकती है। भाई-बहनों के साथ भी संबंध बिगड़ सकते हैं। किसी के स्वास्थ को लेकर चिंता ज्यादा हो सकती है। पार्टनशिप में लाभ की स्थिति भी बिगड़ सकती है। घर में बड़े और छोटे दोनों के सेहत का ध्यान रखें। ग्रहणकाल में बुध के मंत्रों का जाप करें। ग्रहण खत्म होने के बाद किसी गरीब व्यक्ति को हरी सब्जी का दान करें।


तुला- इस ग्रहणकाल के दौरान आपको अपनी वाणी पर बहुत ध्यान देना पड़ेगा वरना आपके कार्यक्षेत्र में परेशानी आ सकती है। इसलिए बोलने से पहले सोचें। मुंह, दांत और आंखों से जुड़ी कोई समस्या हो सकती है। तनाव भी बढ़ सकता है। ग्रहणकाल में शुक्र के मंत्रों का जाप करें। ग्रहणकाल खत्म होने के बाद किसी निर्धन व्यक्ति को घी का दान करें।


वृश्चिक- चंद्र ग्रहण आपकी ही राशि में पड़ रहा है। इसकी वजह से मानसिक तनाव हो सकता है। इस दौरान आपका आध्यात्म की तरफ झुकाव होगा और आपको इससे काफी मदद मिलेगी। आपको ऐसा लगेगा कि पूजा-पाठ के अलावा आपके पास कोई चारा नहीं है। स्थिति इतनी खराब नहीं होगी जितनी आपको महसूस होगी। जब मन विचलित हो तो इंद्र गायत्री मंत्र का जाप करें। ग्रहणकाल खत्म होने के बाद एक तांबे के लोटे में दूध भरकर शिव मंदिर के सामने रख आएं


धनु- इस दौरान आपके निर्णय लेने की क्षमता बहुत खराब हो सकती है। किसी भी तरह का नकारात्मक विचार ना लाएं। आपका झुकाव आध्यात्म की तरफ होगा। आपको बृहस्पति मंत्र का जाप करने की जरूरत है। किसी निर्धन व्यक्ति को एक पैकेट हल्दी का दान करें।


मकर- आपके धन लाभ में कमी होगी। कहीं से पैसा आना होगा तो अचानक रुक जाएगा। जीवनसाथी से तकरार और सहयोग में कमी आ सकती है। परिवार में किसी तीसरे व्यक्ति के कारण आप दोनों के संबंध खराब होंगे। किसी एक रिश्ते पर ध्यान देने की बजाय सारे रिश्तों को प्राथमिकता दें। शनि के मंत्रों का जाप करें। ग्रहण खत्म होने पर एक पैकेट दूध और सरसों का तेल गरीब व्यक्ति को दान करें।


कुंभ- पिता के सेहत को लेकर सावधान रहने की जरूरत है। आपके शत्रु प्रभावी हो सकते हैं। कार्यक्षेत्र में कोई महिला आरोप लगा सकती है और वो आपकी परेशानी का कारण बन सकती है। अपनी सेहत पर भी ध्यान दें। शनि के मंत्रों का जाप करें। ग्रहणकाल खत्म होने के बाद सरसों के तेल या पांच सफेद मिठाई का दान करें।


मीन- धर्म को लेकर किसी बात पर संदेह कर सकते हैं। वाहन और यात्राओं से जुड़ी समस्या आ सकती है। बच्चों के सेहत पर विशेष रूप से ध्यान दें। शिक्षा के क्षेत्र में भी ध्यान देने की जरूरत है और संबंधों में गलतफहमी ना आने दें। ग्रहणकाल के दौरान बृहस्पति मंत्र का जाप करें। ग्रहणकाल के बाद चने की दाल का दान करें।


Popular posts
स्किन और हेयर प्रॉब्लम्स से बचने के लिए डाइट में लें विटामिन ई का करे प्रयोग
Image
ईद-उल-अजहा पर्व पर आज विधायक कुलदीप जुनेजा और छत्तीसगढ़ विशेष के सम्पादक मनप्रीत सिंह ने सभी प्रदेशवासियों को बधाई देते कहा कि ईद-उल-अजहा पर्व हमे भाईचारा एवं एकजुटता का संदेश देता है
Image
सर्दियों में सॉफ्ट और खूबसूरत स्किन के लिए फॉलो करें ये जरूरी टिप्स, कोमल बनेगी त्वचा, ग्लो रहेगा बरकरार
Image
शरीर को डिटॉक्स करने का एक बेहतरीन तरीका, तलवों पर एक खास तरह की मिट्टी लगाना,
Image
हास्य केंद्र योग के दसवें स्थापना वर्ष में शामिल हुए विधायक कुलदीप जुनेजा
Image
वन विभाग के कार्यालयों में उप वन क्षेत्रपाल/वन पाल/ वन रक्षक से लिपकीय कार्य नही लिये जाने का फरमान जारी
Image
उत्तर प्रदेश के एक ग्राम पंचायत में ग्राम प्रधान के द्वारा मृत्यु प्रमाण पत्र (Death certificate) जारी किया गया , जिसे आप भी देखे
Image
छत्तीसगढ़ में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, कचरा गोदाम खुलवाया गया तो युवकों ने पुलिस पर हमला करने की कोशिश मगर फोर्स को हावी होता देख, ठंडे पड़ गए और 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया
Image
रायपुर , पूर्व विधायक श्री बैजनाथ चन्द्राकर ने करोना संक्रमण को देखते हुए छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी बैंक (अपेक्स बैंक) के प्राधिकारी के साथ मुख्यमंत्री सहयता कोष मे 10.00 लाख की राशि दी
Image
राजधानी रायपुर के जिला अस्पताल में रात को 03 बच्चों ने दम तोड़ा, वहीं चश्मदीद (बेमेतरा से आए बच्चों के परिजन) ने 07 मौतों का दावा किया - बिना ऑक्सीजन रेफर करने का आरोप, पुलिस के दखल से ढाई घंटे बाद शांत हुए लोग
Image