कोरोना संक्रमित दो व्यक्तियों के खिलाफ एफआईआर -- पता छुपाकर कर रहे थे गुमराह


Report manpreet singh 

Raipur chhattisgarh VISHESH : रायपुर, कलेक्टर डॉ. एस भारतीदासन ने कोरोना वायरस संकमण के नियंत्रण और रोकथाम के लिए आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि, वर्तमान में जिले में कोरोना पॉजिटिव प्रकरणों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। रोकथाम और नियंत्रण में रखने के लिए सभी संबंधित उपाय अमल में लाया जाना उचित और आवश्यक हो गया है। शासन की ओर से जारी निर्देशों के उल्लंघन करने पर एपीडेमिक डिसीज एक्ट और विधि अनुकुल नियमानुसार अन्य धाराओं के तहत कठोर कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। निर्देश के पालन में मंगलवार को जोन 5 के इंसिडेंट कमांडर संदीप अग्रवाल ने दो व्यक्तियों के विरुद्ध एपेडेमीक एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज करवाई है। पहला फुटबाल हाउस के पास सुंदर नगर निवासी व्यक्ति के खिलाफ दर्ज कराई गई है। व्यक्ति की 18 अगस्त को रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसी तरह न्यू चंगोराभाठा गिट्टी खदान के पास निवासी व्यक्ति 21 अगस्त को कोरोना पॉजिटिव मिला था। दोनों से निरंतर संपर्क कर हॉस्पटिल में भर्ती होने कहा गया था, परंतु वे शासन के आदेश की अवहेलना करते हुए अपना पता छुपा कर मोबाइल में झूठी जानकारी देते रहे। प्रशासन की ओर से उनके निवास पर होम आईसोलेशन का स्टीकर और रिबन भी लगाया गया था। कोरोना संक्रमित व्यक्ति को निर्देश दिए जाने के बाद भी प्रशासन का सहयोग ना करने और संक्रमण फैलाने का कार्य किया जा रहा है। इन दोनों मामले में एपिडेमिक एक्ट का उलंघन कर जानबूझकर संक्रामक बीमारी फैलाने के अपराध में धारा 188, 269, 270 आईपीसी के तहत अपराध दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं।

Popular posts
चाणक्य नीति के अनुसार सच्चे मित्र की ऐसे करें पहचान…नहीं मिलेगा जीवन में कभी धोखा
Image
बार बंद तो घर में शुरू कर दी हुक्का पार्टी -पुलिस ने की छापेमारी -धरे गए हुक्का पीते 11 रईसजादे
Image
राजधानी रायपुर से लगी खारून नदी के किनारे कुम्हारी से अमलेश्वर तक बनेगी 8 किमी नई सड़क
Image
सर्दियों में सॉफ्ट और खूबसूरत स्किन के लिए फॉलो करें ये जरूरी टिप्स, कोमल बनेगी त्वचा, ग्लो रहेगा बरकरार
Image
महिला कांस्टेबल ने साथ क्वारेंटीन होने BF को बनाया नकली पति, तभी आ पहुंची असली पत्नी फिर जो हुआ...
Image
PACL के 12 लाख निवेशकों को 429 करोड़ रुपये से ज्‍यादा का पेमेंट किया जा चुका है। इनमें ज्यादातर छोटे निवेशक हैं, जिन्होंने कंपनी पर 10,000 रुपये तक का दावा किया था - बैंक खाते में भेजे पैसे l
Image
हाथी के गोबर से बनी इस चीज का सेवन आप रोज करते हो.. जाने कैसे
Image